कानपुर में ट्रैक्टर-ट्रॉली तालाब में गिरी, 27 की मौत:चंद्रिका देवी के दर्शन करके लौट रहे थे; मृतकों में 14 बच्चे और 13 महिलाएं शामिल

कानपुर2 महीने पहले

कानपुर के घाटमपुर में शनिवार रात 50 श्रद्धालुओं से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली तालाब में गिर गई। हादसे में 27 लोगों की मौत हो गई। 10 से ज्यादा घायल हैं। गांव वालों की मदद से पुलिस रेस्क्यू में जुटी है। बताया जा रहा है कि सभी श्रद्धालु उन्नाव के चंद्रिका देवी मंदिर में दर्शन कर लौट रहे थे। मरने वालों में 14 बच्चे और 13 महिलाएं शामिल हैं।

SP आउटर तेज स्वरूप सिंह ने बताया कि सभी लोग घाटमपुर के कोर्था गांव के रहने वाले हैं। घायलों को भीतरगांव सीएचसी में भर्ती कराया गया। गंभीर घायलों को कानपुर के हैलट हॉस्पिटल रेफर किया गया है। मृतकों का पोस्टमॉर्टम रात में ही किया जाएगा।

हादसे के बाद मौके पर चीख-पुकार मच गई। पुलिस टीम स्थानीय लोगों के साथ रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटी है।
हादसे के बाद मौके पर चीख-पुकार मच गई। पुलिस टीम स्थानीय लोगों के साथ रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटी है।

मृतकों के परिजन को 2-2 लाख मुआवजे का ऐलान
घटना को लेकर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुर्घटना पर शोक व्यक्त किया है। मृतकों के परिजनों को PMNRF से 2 लाख रुपए और घायलों को 50,000 रुपए की मुआवजा देने की घोषणा की है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस हादसे पर दुख जताया है। सीएम ने सीएम ने अपील की है कि ट्रैक्टर-ट्रॉली का उपयोग सिर्फ कृषि कार्यों और माल ढुलाई के लिए ही करें। इससे सवारियों की ढुलाई न करें।

सीएम ने कैबिनेट मंत्री राकेश सचान एवं अजीत पाल को मौके पर जाकर राहत कार्यों में तेज़ी लाने के निर्देश दिए हैं। वहीं रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी हादसे पर गहरा दुख व्यक्त किया है।

हादसे की जानकारी मिलते ही ग्रामीण मौके पर पहुंचे बचाव में जुट गए।
हादसे की जानकारी मिलते ही ग्रामीण मौके पर पहुंचे बचाव में जुट गए।

बताया जा रहा है कि ये सभी उन्नाव जिले के चंद्रिका देवी मंदिर में मुंडन कार्यक्रम में शामिल होने गए थे। दर्शन कर वापस अपने गांव कोरथा लौट रहे थे। वापस लौटते समय घाटमपुर के साढ़ और गंभीरपुर गांव के बीच सड़क किनारे एक तालाब में इनकी ट्रैक्टर-ट्रॉली अनियंत्रित होकर पलट गई।

घायलों को एंबुलेंस से भीतरगांव सीएचसी में भर्ती कराया गया है।
घायलों को एंबुलेंस से भीतरगांव सीएचसी में भर्ती कराया गया है।

मुंडन संस्कार से लौट रहे थे सभी
जानकारी के अनुसार, कोरथा के रहने वाले राजू निषाद अपने बच्चे का मुंडन कराने रिश्तेदारों संग चंद्रिका देवी मंदिर गए थे। राजू ही ट्रैक्टर चला रहा था। घटना के बाद से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। बताया जा रहा है कि तीन चार जो लोग कूद गए, वो ही बचे हैं। बाकी लोग दबे हुए हैं। हादसे में माता-पिता और जिस बच्चे का मुंडन था, उनकी भी मौत हो गई है।

प्रशासन पर लापरवाही के लग रहे आरोप
घटना की जानकारी मिलने के बाद एम्बुलेंस मौके पर भेजे गए। हालांकि स्थानीय लोगों ने प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि अधिकारियों की लापरवाही के कारण एम्बुलेंस देरी से पहुंची। अगर एम्बुलेंस सही समय पर पहुंचती तो और लोगों की जान बच सकती थी। माना जा रहा है कि ट्रैक्टर के अंदर दबे लोगों की दम घुटने से मौत हुई है। फिलहाल राहत कार्य जारी है। मौके पर सांसद देवेंद्र सिंह भोले और विधायक अभिजीत सिंह सांगा भी पहुंच गए हैं।

कानपुर हैलेट मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. संजय काला ने बताया कि अस्पताल में 2 बच्चों की मौत डूबने से हुई है। इनके नाम 3 वर्ष की दिव्या और 12 साल की रंजना है। एडमिट बाकी 4 लोग की हालत खतरे से बाहर है।

तस्वीरों में देखिए हादसे की भयावहता...

एंबुलेंस से घायलों को जिला अस्पताल भेजा गया।
एंबुलेंस से घायलों को जिला अस्पताल भेजा गया।
हादसे के बाद मौके पर राहत और बचाव कार्य में जुटे ग्रामीण।
हादसे के बाद मौके पर राहत और बचाव कार्य में जुटे ग्रामीण।
हादसे की सूचना पर आसपास गांव के लोग भी मौके पर पहुंच गए।
हादसे की सूचना पर आसपास गांव के लोग भी मौके पर पहुंच गए।
घटनास्थल पर लगी लोगों की भीड़। इतना बड़ा हादसा देखकर हर कोई गमगीन था।
घटनास्थल पर लगी लोगों की भीड़। इतना बड़ा हादसा देखकर हर कोई गमगीन था।
पुलिस फोर्स घटनास्थल पर पहुंची तो हादसे की भयावहता देखकर वो भी सहम गई।
पुलिस फोर्स घटनास्थल पर पहुंची तो हादसे की भयावहता देखकर वो भी सहम गई।
मृतकों और घायलों के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।
मृतकों और घायलों के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।
कानपुर जोन के अपर पुलिस महानिदेशक भानु भास्कर ने राहत और बचाव कार्यों का जायजा लिया। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल भेजा।
कानपुर जोन के अपर पुलिस महानिदेशक भानु भास्कर ने राहत और बचाव कार्यों का जायजा लिया। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल भेजा।
हादसे में 10 से अधिक लोग घायल बताए जा रहे हैं।
हादसे में 10 से अधिक लोग घायल बताए जा रहे हैं।
घायलों में कई बच्चे भी घायल हैं। उनको इलाज के लिए अस्पताल लाया गया है।
घायलों में कई बच्चे भी घायल हैं। उनको इलाज के लिए अस्पताल लाया गया है।
घायलों को अस्पताल में इलाज किया जा रहा है। गंभीर घायलों को जिला अस्पताल रेफर किया गया है।
घायलों को अस्पताल में इलाज किया जा रहा है। गंभीर घायलों को जिला अस्पताल रेफर किया गया है।

मृतकों के नाम...

  1. शिवम पुत्र कल्लू (4)
  2. जानकी पुत्री कल्लू (5)
  3. मिथिलेश पत्नी सफीक (50)
  4. केशकली पति देशराज (40)
  5. पलक पुत्री राम आधार (4)
  6. अंजली पुत्री रामसजीवन (13)
  7. किरन पुत्री शिवनायक (15)
  8. खुशी पुत्री पुन्तीलाल
  9. मनीषा पुत्री रामदुलारे (17)
  10. अनिता देवी पति बीरेंद्र सिंह (35)
  11. रामजानकी पत्नी छिद्दू (60)
  12. कलावती पत्नी रामदुलारे (50)
  13. विनीता पत्नी कल्लू (36)
  14. तारा देवी पत्नी केवट (50)
  15. रवि पुत्र शिवराम (10)
  16. छोटू पुत्र राम दुलारे (12)
  17. गीता सिंह पति शंकर सिंह ( 50)
  18. मायावती पत्नी राम बाबू (50)
  19. उषा पत्नी बृजलाल सिंह ( 45)
  20. शिवानी पुत्री राम खेलावन (12)
  21. रानी पत्नी राम शंकर ( 50)
  22. सुनीता पुत्री रंपत निषाद (15)
  23. पार्वती पत्नी सियाराम (65)
  24. बिंदिया पुत्री राजू (3)
  25. प्रीति पुत्री राजाराम (18)
  26. सोनिका पुत्री राजाराम (18)
  27. अभी पुत्र राजू (7)