UP में जुमे की नमाज के बाद हिंसा:प्रयागराज में देसी बम चले, बवालियों के घरों पर चलेगा बुलडोजर, 6 जिलों से 136 गिरफ्तार

लखनऊ/प्रयागराज6 महीने पहले

जिसका डर था। वही हुआ। शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद यूपी के कई शहरों में हिंसा भड़क गई। प्रयागराज में हालात सबसे ज्यादा खराब हो गए। पथराव में डीएम, एसएसपी, एडीजी, आईजी घायल हो गए। एसपी की गाड़ी टूट गई है। पीएसी के वाहन समेत 7 से ज्यादा गाड़ियों को फूंक दिया गया। आगजनी की गई।

प्रयागराज में हालात इतने बिगड़ गए कि एडीजी को बंदूक उठानी पड़ी। अब यहां दो बुलडोजर मंगाए गए हैं, जो बवाल में शामिल लोगों के अवैध निर्माण को ध्वस्त करेंगे। अधिकारियों ने लोगों से उनके घरों से जुड़े कागज मांगे हैं। पढ़ें पूरी खबर...

गृह मंत्रालय का अलर्ट- उपद्रवियों के निशाने पर राज्यों के DGP देशभर में प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसक घटनाओं के बाद गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पुलिस प्रमुखों (DGP) को सतर्क रहने का निर्देश जारी किया है। गृह मंत्रालय ने कहा है कि इस तरह की हिंसक घटनाओं में उपद्रवी पुलिस अधिकारियों को निशाना बना सकते हैं। ऐसे में उन्हें सतर्क रहने के लिए कहा गया है।

उधर, मुरादाबाद और सहारनपुर में भी नमाज के बाद भीड़ हिंसक हो गई। पथराव के बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। प्रदेश में अब तक 136 उपद्रवी गिरफ्तार किए गए। इनमें सहारनपुर में 45, प्रयागराज में 37, अंबेडकरनगर में 23, हाथरस में 20, मुरादाबाद में 7 और फिरोजाबाद में 4 आरोपियों की गिरफ्तारी हुई है। हिंसा के बाद सीएम योगी ने दंगाइयों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। गृह विभाग ने सभी डीएम से रिपोर्ट मांगी है। चलिए, अब आपको बताते हैं किन-किन शहरों में हिंसा हुई और कहां पुलिस की रणनीति काम आई।

प्रयागराज में देसी बमों का इस्तेमाल, छतों से पथराव

प्रयागराज में मुस्तफा कॉम्प्लेक्स के पास जमकर पत्थरबाजी करने के साथ ही दंगाइयों ने पीएसी की वैन में आग लगा दी। फायर ब्रिगेड ने जल्द ही इस पर काबू पा लिया।
प्रयागराज में मुस्तफा कॉम्प्लेक्स के पास जमकर पत्थरबाजी करने के साथ ही दंगाइयों ने पीएसी की वैन में आग लगा दी। फायर ब्रिगेड ने जल्द ही इस पर काबू पा लिया।

प्रयागराज के अटाला इलाके में भड़की हिंसा में हमलावरों ने देसी बमों से पुलिस पर हमला किया है। एडीजी प्रेम प्रकाश का गनर पथराव में गंभीर रूप से घायल हो गया। आईजी प्रयागराज राकेश सिंह पत्थर लगने से बुरी तरह चोटिल हुए। DM संजय कुमार खत्री और SSP अजय कुमार को पत्थर लगा। हिंसक भीड़ ने सड़क पर खड़े वाहनों में तोड़फोड़ की। उनको फूंक दिया। गलियों में घरों की छतों से पथराव किया गया। पुलिस ने भी जवाब में पत्थर फेंके। उपद्रवियों ने PAC की गाड़ी को आग लगा दी।

एडीजी प्रयागराज प्रेम प्रकाश ने कहा कि पथराव में छोटे बच्चे आगे आ गए थे, तो पुलिस ने ज्यादा बल प्रयोग नहीं किया गया। हिंसा में वामपंथी संगठनों का हाथ। एआईएमआईएम और समाजवादी पार्टी के पदाधिकारियों का हिंसा में हाथ हो सकता है।

प्रयागराज में पुलिस की गाड़ियां फूंकी, पत्थर मारे; देखें UP में हिंसा के 3 वीडियो

प्रयागराज में बवाल के बाद प्रदर्शनकारियों ने कई वाहनों में आग लगा दी।
प्रयागराज में बवाल के बाद प्रदर्शनकारियों ने कई वाहनों में आग लगा दी।

सहारनपुर में अल्लाह हू अकबर के नारे के बाद पथराव
सहारनपुर की जामा मस्जिद से जुमे की नमाज के बाद निकली भीड़ ने अचानक से अल्लाह हू अकबर के नारे लगाने शुरू कर दिए। देखते ही देखते भीड़ उग्र हो गई। पथराव शुरू कर दिया। पुलिस को लाठीचार्ज भी करना पड़ा। एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने कहा कि सहारनपुर में भीड़ ज्यादा हो गई थी, लेकिन अब हालात काबू में कर लिए गए हैं। 36 उपद्रवियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

यहां पढ़ें पूरी खबर- जुमे की नमाज के बाद प्रयागराज में बवाल, हालात बेकाबू:पथराव से डीएम-एसएसपी घायल, एसपी की गाड़ी टूटी, आंसू-गैस के गोले दागे

सहारनपुर में मस्जिद के बाहर निकलते ही नमाजियों ने जब नारेबाजी शुरू की, तो आस-पास की दुकानों के शटर गिरने लगे। इसके बाद यहां भी जमकर पथराव हुआ।
सहारनपुर में मस्जिद के बाहर निकलते ही नमाजियों ने जब नारेबाजी शुरू की, तो आस-पास की दुकानों के शटर गिरने लगे। इसके बाद यहां भी जमकर पथराव हुआ।

मुरादाबाद में नूपुर शर्मा को फांसी देने की मांग
मुरादाबाद में बवाल होने के बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। यहां से जो वीडियो सामने आए उसमें दिख रहा है कि नाबालिग बच्चे गिरते-पड़ते वहां से भाग रहे हैं। मुरादाबाद में नमाज के बाद नूपुर शर्मा का सिर कलम करने का पोस्टर बैनर लेकर सड़कों पर उतरे। नूपुर शर्मा की तुलना आतंकवादी से करते हुए भीड़ ने “नूपुर शर्मा को फांसी दो” के नारे लगाए।

सहारनपुर में मस्जिद के बाहर नमाजियों की भीड़ बड़े पैमाने पर सड़कों पर उतर आई। इसके बाद यहां हालात बेकाबू हो गए और पथराव हुआ।
सहारनपुर में मस्जिद के बाहर नमाजियों की भीड़ बड़े पैमाने पर सड़कों पर उतर आई। इसके बाद यहां हालात बेकाबू हो गए और पथराव हुआ।
मुरादाबाद में नूपुर शर्मा को फांसी देने के नारे और उनका सिर कलम करने के पोस्टर लेकर प्रदर्शन किया गया।
मुरादाबाद में नूपुर शर्मा को फांसी देने के नारे और उनका सिर कलम करने के पोस्टर लेकर प्रदर्शन किया गया।

बिजनौर में 4 गिरफ्तार, देवबंद में 8 हिरासत में
बिजनौर में सोशल मीडिया के जरिए सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ने के आरोप में पुलिस ने 4 लोगों को हिरासत में लिया है। बिजनौर में पुलिस ने AIMIM जिलाध्यक्ष अब्दुल्ला और उसके साथी इफ्तेखार को जुमे की नमाज से पहले ही धार्मिक भावनाएं भड़काने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। देवबंद में नमाज के बाद कुछ मदरसा छात्रों ने नारेबाजी की। इनके हाथ में बैनर पोस्टर भी थे। वह पथराव करने लगे। मामला बढ़ते देख पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा, जिससे भगदड़ मच गई। पुलिस ने 8 प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया है।

यहां पढ़ें पूरी खबर- मुरादाबाद में नूपुर शर्मा का सिर कलम करने के पोस्टर:जुमे की नमाज के बाद “नूपुर शर्मा को फांसी दो” के नारे लगाते हुए उग्र प्रदर्शन, भीड़ ने थाना घेरा, लाठीचार्ज; देखें VIDEO

मुरादाबाद में मुगलपुरा थाने के सामने नमाजियों की भीड़ जमा हो गई। पुलिस के साथ झड़प भी हुई।
मुरादाबाद में मुगलपुरा थाने के सामने नमाजियों की भीड़ जमा हो गई। पुलिस के साथ झड़प भी हुई।

कानपुर में सख्ती, तो नहीं हुई घटना
3 जून की हिंसा को देखते हुए कानपुर में धारा-144 लागू कर दी गई थी। हिंसा प्रभावित क्षेत्र के चारों तरफ तीन किमी के दायरे में पांच हजार से ज्यादा पुलिस फोर्स तैनात है। सड़क के अलावा सोशल मीडिया पर नजर रखने के लिए 100 से ज्यादा लोगों की टीम लगाई गई है। इसी सख्ती का असर रहा कि कानपुर से कोई घटना सामने नहीं आई।

कानपुर में सभी वरिष्ठ पुलिस अधिकारी सुबह से ही संवेदनशील इलाकों में गश्त कर रहे थे।
कानपुर में सभी वरिष्ठ पुलिस अधिकारी सुबह से ही संवेदनशील इलाकों में गश्त कर रहे थे।

आगरा में पुलिस अलर्ट थी
आगरा में पुलिस हाई अलर्ट पर थी। एसएसपी एसके सिंह ने फोर्स के साथ सुबह संवेदनशील इलाकों में फ्लैग मार्च किया। गुरुवार रात को भी पुलिस अधिकारियों ने फोर्स के पैदल गश्त की। आगरा में पुलिस सुबह से ही अलर्ट मोड रही है।

आगरा में सुबह से ही संवेदनशील इलाकों में पुलिस पैदल गश्त कर रही थी।
आगरा में सुबह से ही संवेदनशील इलाकों में पुलिस पैदल गश्त कर रही थी।

लखनऊ को 9 जोन में बांटा
लखनऊ में टीले मस्जिद पर जुमे की नमाज को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात रहा। एक दिन पहले ही धारा-144 लागू कर दी गई। मौके पर ज्वाइंट कमिश्नर पुलिस लॉ एंड ऑर्डर पीयूष समेत आधा दर्जन वरिष्ठ पुलिस अधिकारी, 4 सेंट्रल समेत छह कंपनियां पीएसी की तैनात रही। राजधानी को 9 जोन 36 सेक्टर में बांटा गया है।

लखनऊ में टीले वाली मस्जिद सबसे संवेदनशील है, जहां 2000 पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई थी।
लखनऊ में टीले वाली मस्जिद सबसे संवेदनशील है, जहां 2000 पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई थी।

यहां पढ़ें पूरी खबर- धारा 144 लागू, 9 जोन 36 सेक्टर में बांटा लखनऊ:कानपुर हिंसा बाद जुम्मे की नमाज़ पर धर्म गुरुओं से वार्ता, ड्रोन कैमरे से टीले वाली मस्जिद पर निगरानी, 40 जगह अतिरिक्त फोर्स

वाराणसी में ड्रोन से रखी नजर
वाराणसी में ज्ञानवापी परिसर को लेकर तनाव है। जुमे की नमाज से पहले ही पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश और कमिश्नरेट के अन्य अफसरों से लेकर थानेदार तक सड़कों पर आ गए थे। मिश्रित आबादी वाले संवेदनशील इलाकों में लगातार पुलिस की पैदल गश्त जारी रही। लोकल इंटेलिजेंस यूनिट (LIU) को माहौल पर निरंतर नजर रखने के लिए कहा गया है। लिहाजा, वाराणसी में ज्ञानवापी का वजूखाना सील किए जाने के बाद आज शुक्रवार को चौथे जुमे की नमाज अदा शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुई।

वाराणसी में निगरानी के लिए ड्रोन कैमरे की मदद ली गई। इलाकों में पुलिस लगातार गश्त करती रही।
वाराणसी में निगरानी के लिए ड्रोन कैमरे की मदद ली गई। इलाकों में पुलिस लगातार गश्त करती रही।

यहां पढ़ें पूरी खबर- नूपुर शर्मा के बयान के विरोध में बंद रही दुकानें:वाराणसी में शांतिपूर्ण तरीके से जुमे की नमाज संपन्न; अलर्ट मोड पर पुलिस और LIU

यहां पढ़ें पूरी खबर- जुमे की नमाज को लेकर पुलिस अलर्ट:आगरा में संवेदनशील इलाकों में पुलिस का फ्लैग मार्च, सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

(रिपोटर्स: प्रयागराज: अम्बरीश शुक्ला, अंजनी श्रीवास्तव, सहारनपुर: अमित गुप्ता, मुरादाबाद: उमेश शर्मा, देवबंद: अबद अली, वाराणसी: पुष्पेंद्र, कानपुर: दिलीप सिंह, रवि पाल लखनऊ: विनोद मिश्रा, आगरा: गौरव भारद्वाज)