• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • Accident Occurred While Taking Down Hoardings From Under Construction House In Chakeri Safipur, Family Members Created Ruckus Over Compensation

हाईटेंशन लाइन से 1 की मौत, 2 गंभीर:कानपुर के चकेरी सफीपुर में निर्माणाधीन मकान से होर्डिंग उतारने के दौरान हुआ हादसा, परिजनों ने मुआवजे को लेकर किया हंगामा

कानपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से एक की मौत और दो के झुलसने की सूचना पर मौके पर पहुंची चकेरी थाने की पुलिस। - Dainik Bhaskar
हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से एक की मौत और दो के झुलसने की सूचना पर मौके पर पहुंची चकेरी थाने की पुलिस।

कानपुर के चकेरी में निर्माणाधीन मकान के पास से गुजरे हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से एक मजदूर की मौत हो गई। जबकि दो गंभीर रूप से झुलस गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने झुलसे लोगों को कांशीराम हॉस्पिटल में भर्ती कराया। दोनों की हालत गंभीर होने पर उन्हें हैलट रेफर कर दिया गया। मृतक के परिजनों ने मुआवजे को लेकर पोस्टमार्टम हाउस में हंगामा किया।

करंट की चपेट में आने से घायल राजेंद्र को पुलिस ने हॉस्पिटल पहुंचाया
करंट की चपेट में आने से घायल राजेंद्र को पुलिस ने हॉस्पिटल पहुंचाया

निर्माणाधीन मकान में लगी होर्डिंग हाईटेंशन लाइन में छूने से हुआ हादसा
संजीव नगर चकेरी निवासी राजकुमार (45) सफीपुर प्रथम इलाके में सुरेश सिंह भदौरिया के निर्माणाधीन मकान में काम कर रहे थे। उनके साथ उनके साढू अहिरवा निवासी राजेंद्र और उन्नाव निवासी मैकूलाल भी थे। रविवार को मकान की दूसरी मंजिल में प्लास्टर होना था। इसके लिए राजकुमार, मैकूलाल और राजेंद्र मिलकर मकान में लगी होर्डिंग उतार रहे थे। इस दौरान होल्डिंग मकान के पास से गुजर रही हाईटेंशन लाइन से छू गई। जिससे वह तीनों हाईटेंशन की चपेट में आ गए।

हादसे में राजकुमार की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि राजेंद्र और मैकूलाल गंभीर रूप से झुलस गए। दोनों का हैलट में इलाज चल रहा है। थाना प्रभारी मधुर मिश्रा ने बताया कि निर्माणाधीन मकान में लापरवाही से हादसा हुआ है। अगर परिजन तहरीर देंगे तो मकान मालिक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की जाएगी।

मकान मालिक ने जबरन होर्डिंग उतारने का बनाया था दबाव
उन्नाव निवासी मैकूलाल ने बताया कि मकान मालिक सुरेश सिंह भदौरिया ने जबरन होर्डिंग उतारने का दबाव बनाया था। जबकि उन्हें मना किया जा रहा था कि तीन आदमी मिलकर इतनी बड़ी होर्डिंग नहीं उतार सकेंगे। इसके बाद भी जबरन उतारने के लिए दबाव बनाया और हादसे का शिकार हो गए। मृतक और घायलों के परिजनों ने मुआवजे की मांग की है।

खबरें और भी हैं...