ओमीक्रोन के लिये तैयार किये जा रहे निजी अस्पताल:कोरोना की तीसरी लहर में निजी अस्पतालों की तैयारियां परखने निकले प्रशासनिक अफसर

कानपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नारायणा मेडिकल कॉलेज में कोना की तैयारियों को परखते डीएम, सीडीओ और सीएमओ - Dainik Bhaskar
नारायणा मेडिकल कॉलेज में कोना की तैयारियों को परखते डीएम, सीडीओ और सीएमओ

सिर्फ सरकारी अस्पताल ही नही कोरोना की तीसरी लहर के लिये निजी अस्पतालों को किसी भी स्थित से निपटने कें लिये तैयार किया जा रहा है। इसके लिए शहर के पूर्व में रहे कोविड अस्पतालों को पिछले कार्य कर आधार पर वरीयता दी जा रही है। इसी क्रम में वुधवार को डीएम, सीडीओ और सीएमओ ने नारायणा हॉस्पिटल एंड मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण कर कोरोना की तैयारियां परखी। यहां 400 कोरोना मरीजों के लिये वेड इलाज के लिये तैयार रखे गये है। जिनमे से 150 बेड़ों पर मरीजों को आक्सीजन भी मिल सकेगी।

कोरोना की दोनों लहरों में निजी अस्पताल किये गये थे सक्रिय,

कानपुर महानगर में कोरोना की पहली और दूसरी लहर में क़ई निजी अस्पतालों में कोरोना मरीजों का इलाज शुरू किया गया था। कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए बढ़ते मरीजों की संख्या जिला प्रशासन और स्वास्थ्य अधिकारियों के लिए चिंता का विषय बनी हुई है। इसी को ध्यान रखते हुए वुधवार को प्रशासनिक और स्वास्थ्य अमला एक साथ निजी अस्पतालों के दौरे पर रहा। जिसमें पूर्व में कोविड अस्पताल रहे नारायणा मेडिकल कॉलेज का अधिकारियों द्वारा दौरा किया गया। तीसरी लहर को देखते हुए वहां की तैयारी की तैयारियों को भी परखा गया।

400 वेड किये गये सुरक्षित,

नारायणा हॉस्पिटल एंड मेडिकल कॉलेज के 400 वेड कोरोना मरीजों के लिये रिज़र्व कर दिए गए है। यहां 125 CBM/H का ऑक्सीजन प्लांट भी तैयार है। जिसमे 60 वेंटीलेटर और 150 ऑक्सिजन युक्त वेड मरीजों के लिये उपलब्ध रहेंगे। नारायणा में 80 बायपैप मशीन और 500 RT - PCR टेस्ट करने की क्षमता वाली लैब भी है।

प्रशासन और स्वास्थ्य अधिकारियों ने निजी अस्पतालों की तैयारी देखी,

कोरोना की तीसरी लहर की तैयारियों को परखने के लिए जिलाधिकारी विशाख जी अय्यर, सीडीओ डॉ महेंद्र बहादुर, सीएमओ डॉ नेपाल सिंह ने नारायणा हॉस्पिटल एंड मेडिकल कालेज का निरीक्षण किया। नेपाल सिंह ने बताया कि वैकल्पिक व्यवस्था तैयार की जा रही है। जरूरत पड़ने पर कई निजी अस्पतालों को कोविड के लिए तैयार किया जाएगा, जैसा कि दूसरी लहर में भी किया गया था।