• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • After Killing The Young Man, Not In The Pandu River, The Dead Body Was Thrown In The Empty Plot, Was Murdered With The Companions By Walking With A Brick, The Bloody Body Recovered

हत्यारोपी ने पुलिस को 20 घंटे तक गुमराह किया:युवक की अपहरण के बाद हत्या करके पांडु नदी में नहीं, खाली प्लाट में फेंका था शव, कानपुर में ईंट से कूचकर साथियों के साथ की थी हत्या

कानपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मौके पर जांच करने पहुंचे एडीसीपी डॉ. अनिल कुमार के साथ बर्रा थाने की पुलिस। - Dainik Bhaskar
मौके पर जांच करने पहुंचे एडीसीपी डॉ. अनिल कुमार के साथ बर्रा थाने की पुलिस।

बर्रा में अपहरण के बाद युवक की पांडु नदी में फेंक कर नहीं बल्कि ईंट से सिर कूचकर हत्या की थी। इसके बाद बर्रा बनपुरवा के एक खाली प्लाट में शव फेंक दिया था। हत्यारोपी ने कानपुर पुलिस को 20 घंटे तक गुमराह किया। इसके चलते पुलिस और पीएसी के गोताखोर सोमवार को पूरे दिन पांडु नदी में 20 किमी. तक शव की तलाश में जुटे रहे। स्थानीय लोगों की सूचना पर देर रात पुलिस ने शव बरामद किया तब सच्चाई सामने आई। हत्याकांड का खुलासा करने के बाद आज हत्यारोपियों को जेल भेजा जाएगा।

मृतक महेंद्र दोहरे उर्फ हल्के (फाइल फोटो)
मृतक महेंद्र दोहरे उर्फ हल्के (फाइल फोटो)

अपहरण के बाद हत्या फिर दो लाख की मांगी थी फिरौती

मूल रूप से मध्यप्रदेश के खिरियाकडोर दतिया निवासी महेंद्र दोहरे उर्फ हल्के (22) बर्रा जरौली में रहने के साथ ही ठेले से गोल-गप्पे बेचता था। महेंद्र की रविवार रात अपहरण के बाद हत्या कर दी गई थी। इसके बाद साथ में रहने वाले पंडोखर दतिया निवासी बहनोई नंदराम से फोन पर दो लाख रुपए की फिरौती मांगी गई थी। मामले में पुलिस ने सर्विलांस की मदद से फिरौती मांगने वाले बर्रा निवासी रवि प्रजापति समेत चार युवकों को हिरासत में लिया था।

रवि ने बर्रा पुलिस को गुमराह करते हुए बताया था कि मारपीट के बाद उसे पांडु नदी में फेंक दिया था। बर्रा थाने की पुलिस और पीएसी के गोताखोर दिन भर पांडु नदी में शव तलाशने के लिए कांबिंग करते रहे, लेकिन देर रात एक सूचना ने पुलिस को झकझोर दिया। पता चला कि बनपुरवा बर्रा के एक खाली प्लाट में महेंद्र दोहरे का रक्त रंजित शव पड़ा हुआ है। तब पता चला कि रवि ने अपहरण के बाद रंजिश में हत्या कर दी थी।

इसके बाद फिरौती का प्लान बनाया और दो लाख रुपए की भाई से फिरौती मांगी थी। बर्रा पुलिस ने के भाई मृतक सुरेंद्र की तहरीर पर आरोपित रवि प्रजापति के खिलाफ फिरौती के लिए अपहरण और एससीएसटी एक्ट की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर ली है। उसके साथियों की भूमिका की जांच की जा रही है।
फोरेंसिक टीम ने जुटाए साक्ष्य
शव बरामद होने के बाद सोमवार देर रात बर्रा बनपुरवा के जिस खाली प्लाट से शव बरामद हुआ वहां पर फोरेंसिक टीम को जांच के लिए बुलाया गया। जांच के दौरान दो खून से सनी हुई ईंट भी फोरेंसिक टीम ने बरामद की है। इसके अलावा फोरेंसिक टीम ने घटनास्थल से अन्य साक्ष्य जुटाये हैं।

सीसीटीवी फुटेज भी मिले

बर्रा पुलिस ने कर्रही से लेकर बनपुरवा तक लगे सीसीटीवी फुटेज की जांच की तो रवि प्रजापति के साथ महेंद्र को जाते हुए देखा गया है। जबकि पहले हत्यारोपित रवि साथ में ले जाने की बात से भी इनकार कर रहा था। लेकिन सीसीटीवी फुटेज मिलने के बाद पता चल गया कि पूछताछ के दौरान रवि ने नहर में शव फेंकने से लेकर एक-एक बात मनगढंत और झूठ बताकर पुलिस को गुमराह करता रहा।

खबरें और भी हैं...