• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • After Sarnath, The History Of Freedom Struggle And City Will Be Shown Through Building Projection In Kanpur, Sarnath, Varanasi, Foolbhag, Kanpur

कानपुर का ऐतिहासिक फूलबाग खुद बताएगा अपनी दास्तां:सारनाथ के बाद बिल्डिंग प्रोजेक्शन के जरिए दिखाया जाएगा स्वतंत्रता संग्राम और शहर का इतिहास

कानपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फूलबाग की एतिहासिक बिल्डिंग पर लाइट एंड साउंड के जरिए पूरे इतिहास को दिखाया जाएगा। - Dainik Bhaskar
फूलबाग की एतिहासिक बिल्डिंग पर लाइट एंड साउंड के जरिए पूरे इतिहास को दिखाया जाएगा।

कानपुर की ऐतिहासिक धरोहर अब बेहतरीन लाइट और साउंड के साथ अपने इतिहास का खुद बखान करेंगी। बेहतरीन साउंड के साथ बिल्डिंग प्रोजेक्शन के जरिए लाइट एंड साउंड शो किया जाएगा। फूलबाग स्थित ऐतिहासिक गांधी भवन का सुधार स्मार्ट सिटी योजना के तहत कराया जाएगा। इसको लेकर कमिश्नर ने विभिन्न विभागों के अफसरों के साथ मंगलवार को गांधी भवन का निरीक्षण करने के साथ बैठक की। जनवरी 2023 से यह विभिन्न सुविधाओं के साथ खोल दिया जाएगा।
सारनाथ के बाद कानपुर
फूलबाग की एतिहासिक बिल्डिंग पर लाइट एंड साउंड के जरिए पूरे इतिहास को दिखाया जाएगा। इसमें स्वतंत्रता संग्राम से लेकर कानपुर के संर्पूण इतिहास की जानकारी दी जाएगी। अभी बिल्डिंग प्रोजेक्शन के जरिए सारनाथ में भगवान बुद्ध की उपदेश स्थली धमेख स्तूप के ऊपर लाइट एंड साउंट के जरिए बुद्ध का पूरी यात्रा बताई जाती है। इसका इनॉग्रेशन पीएम नरेंद्र मोदी ने किया था।
फिर बनेगा आकर्षक का केंद्र
कमिश्नर डॉ. राज शेखर के मुताबिक कानपुर स्मार्ट सिटी ने गांधी भवन (किंग एडवर्ड मेमोरियल हॉल) को शहर के आकर्षण का केंद्र बनाने की योजना तैयार की है। इसके तहत यहां पर आर्ट गैलरी, संग्रहालय, लाइब्रेरी, बॉल रूम, प्रदर्शनी केंद्र जैसी सार्वजनिक सुविधाओं का विकास किया जाएगा। यहां पर कानपुर के इतिहास के भी दर्शन कराए जाएंगे। निरीक्षण में डीएम आलोक तिवारी और नगर आयुक्त अक्षय त्रिपाठी भी रहे।
घड़ियां फिर बताएंगी समय
आने वाले लोगों के लिए कैफेटेरिया, शौचालय, ऑडियो विजुअल प्ले एरिया, किड्स एरिया आदि डेवलप किए जाएंगे। यहां पर बने लकड़ी के बॉलरूम की मरम्मत कर उसे फिर से कल्चरल इवेंट के इस्मेताल में लाया जाएगा। इसके अलावा इस ऐतिहासिक इमारत की घड़ियों को भी सुधारा जाएगा। इन सभी योजनाओं के लिए एक सलाहकार की नियुक्ति होगी, उसके बाद टेंडर मांगे जाएंगे। तकरीबन डेढ़ साल में इसके कायाकल्प की उम्मीद जताई गई है।
कमिश्नर ने तय की टाइमलाइन
सलाहकार की नियुक्ति : अगस्त के अंत तक
प्रारंभिक रिपोर्ट : सितंबर 2021 अंत
परियोजना की स्वीकृति : अक्टूबर अंत
टेंडर को अंतिम रूप देना : दिसंबर अंत
काम शुरू करना: जनवरी 2022
कार्य पूरा करना: दिसंबर 2022

खबरें और भी हैं...