• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • Along With The Bajrang Dal Workers, Religious Material Was Burnt In Front Of The Police And The Accused Was Brutally Beaten Up By Dragging Them From The House, Force Of Many Police Stations Including PAC Deployed When The Atmosphere Deteriorated.

कानपुर में धर्म परिवर्तन पर बवाल:भाजपा विधायक के बेटे ने समर्थकों के साथ आरोपी को पीटा, पिता को भीड़ से बचाने के लिए बच्ची लिपटकर रोती रही

कानपुर4 महीने पहले

कानपुर के बर्रा-8 की बस्ती में छेड़खानी के एक आरोपी को BJP विधायक महेश त्रिवेदी के बेटे और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने बीच सड़क पर जमकर पीटा। मौके पर मौजूद पुलिसकर्मी मूक बनकर तमाशा देखते रहे। मामले में पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ FIR दर्ज कर ली है।

मारपीट का एक वीडियो भी सामने आया है। इसमें भीड़ एक शख्स को पीट रही है। भीड़ के शिकंजे में फंसे पिता को बचाने के लिए उसकी बच्‍ची लिपटकर रो रही है। इसके बावजूद भीड़ शख्स को पीटती रही। मामला दो अलग-अलग समुदाय से जुड़े होने पर सांप्रदायिक तनाव फैलने का डर है। ऐसे में प्रशासन ने मौके पर PAC तैनात कर दी है। पुलिस ने मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ FIR भी दर्ज की है।

धर्मांतरण का आरोप लगाया
बर्रा-8 की रहने वाली एक किशोरी के परिजनों ने बस्ती के तीन युवकों पर छेड़छाड़ और 20 हजार रुपए देकर धर्म परिवर्तन कराने का दबाव बनाने का आरोप लगाया है। किशोरी की मां ने इसकी शिकायत विधायक महेश त्रिवेदी से की थी। इसके बाद बर्रा पुलिस ने 31 जुलाई को आरोपी सद्दाम, सलमान और मुकुल के खिलाफ छेड़खानी समेत अन्य धाराओं में FIR दर्ज की थी।

पीड़ित परिवार का कहना था कि जबरन धर्म परिवर्तन कराने का प्रयास करने के बाद भी पुलिस ने संबंधित धाराओं में एफआईआर दर्ज नहीं की और आरोपियों को गिरफ्तार भी नहीं किया। इसी बात को लेकर भाजपा से किदवई नगर विधासनभा के विधायक महेश त्रिवेदी के बेटे शुभम त्रिवेदी ने अपने समर्थकों के साथ बुधवार शाम को रामगोपाल चौराहे पर हंगामा किया।

पुलिस हिरासत में आरोपी को पीटते बजरंग दल के कार्यकर्ता और भीड़
पुलिस हिरासत में आरोपी को पीटते बजरंग दल के कार्यकर्ता और भीड़

पुलिस किसी तरह छुड़ाकर थाने लाई
बजरंग दल के कार्यकर्ताओं के हंगामे की सूचना पाकर कई थानों की फोर्स पहुंच गई। इधर, बजरंग दल के कार्यकर्ता एक आरोपी को उसके घर से खींचकर बाहर लेकर आ गए। उसे पुलिस के सामने ही जमकर पीटा। खींचते हुए उसे चौराहे तक लेकर गए।

मौके पर मौजूद पुलिस उसे किसी तरह छुड़ाकर थाने ले गई। माहौल बिगड़ता देख कानपुर पुलिस कमिश्नर असीम अरुण ने पीएसी और कई थानों की फोर्स तैनात कर दी।

दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर मुकदमा दर्ज कराया था
DCP साउथ रवीना त्यागी ने बताया कि 12 जुलाई को छेड़खानी और धर्मांतरण के आरोपी की पत्नी कुरैशा बेगम ने FIR दर्ज कराई थी। इसमें उसने छेड़खानी का आरोप लगा रही महिला और उसके पति के खिलाफ मारपीट का आरोप लगाया था। इसके बाद दूसरे पक्ष ने 31 जुलाई को तीनों भाई सद्दाम, सलमान और मुकुल के खिलाफ छेड़खानी समेत अन्य धाराओं में क्रॉस FIR दर्ज कराई।

धर्मांतरण के आरोपी को पीटते बजरंग दल के कार्यकर्ता और भीड़।
धर्मांतरण के आरोपी को पीटते बजरंग दल के कार्यकर्ता और भीड़।

विधायक के बेटे और बजरंग दल को छोड़ा, बैंड वाले को बनाया आरोपी
DCP साउथ ने बताया कि प्रदर्शन स्थल से 500 मीटर दूर अजय बैंड वाले, उसके बेटे डॉन और 8-10 अज्ञात व्यक्तियों ने धर्मांतरण के आरोपी अफसर अहमद के साथ मारपीट की। सूचना मिलते ही पुलिस पहुंच गई और अफ़सार अहमद को सुरक्षित थाने ले आई। अफ़सार की तहरीर पर मारपीट करने वालों के खिलाफ कई धाराओं में FIR दर्ज की गई है।

बर्रा-8 में बवाल के बाद पीएसी समेत अन्य फोर्स तैनात है।
बर्रा-8 में बवाल के बाद पीएसी समेत अन्य फोर्स तैनात है।
खबरें और भी हैं...