• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • Appealed To The Women's Commission On The Complaint Of The Victim, The Member Of The Women's Commission Wrote A Letter To The Commissioner Kanpur

कानपुर कमिशनरेट पुलिस यूपीआई से लेने लगी है रिश्वत:पीड़ित की शिकायत पर महिला आयोग से लगाई न्याय की गुहार, महिला आयोग की सदस्य ने कमिश्नर को लिखा पत्र

कानपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राज्य महिला आयोग की सदस्य पूनम कपूर को अपनी बात बताती सविता मिश्रा - Dainik Bhaskar
राज्य महिला आयोग की सदस्य पूनम कपूर को अपनी बात बताती सविता मिश्रा

शहर में कमिशनरेट पुलिस सिस्टम लागू होने के बाद भी शहर की पुलिस में कोई परिवर्तन नहीं आया है। पुलिस पहले की जैसे ही काम कर रही है, मुकदमे और एफआईआर से आरोपियों के नाम हटाने के एवज में पहले दरोगा और अन्य पुलिसकर्मी कैश में लेनदेन किया करते थे, लेकिन अब इन लोगों ने नया तरीका ढूंढ निकला है। पुलिसकर्मी अब यूपीआई, आरटीजीएस या एनईएफटी के जरिये सीधे पैसा अपनी जेब की बजाए अकाउंट में ले रहे है। ताजा मामला पनकी थाना क्षेत्र का है, जहां पीड़ित सविता मिश्रा ने जांच अधिकारी छोटे सिंह पर आरोप लगते हुए उनके द्वारा लिखाए मुकदमे से आरोपियों के नाम और धाराएं हटाने के नाम पर हजारों रूपए अपने खाते में लिए।

ट्रांसफर हुए पैसों का स्क्रीन शॉट
ट्रांसफर हुए पैसों का स्क्रीन शॉट

क्या है पूरा मामला...
दरअसल सविता मिश्रा का विवाद उनके पति और उसके परिवार वालों है, इसी के चलते सविता ने इसी साल मार्च में अपने पति और ससुराल वालों पर धारा 323, 504, 506, 380 मुकदमा दर्ज कराया था। मुकदमे की विवेचना उपनिरीक्षक छोटे सिंह कर रहा था। पीड़ित ने विवेचना कर रहे उपनिरीक्षक छोटे सिंह पर आरोप लगते हुए कहा है कि जाँच के नाम पर आरोपियों के नाम हटाने और धाराएं कम कर मुकदमे को कमजोर करने के लिए मोटी रकम छोटे सिंह ने यूपीआई और आरटीजीएस के जरिए अपने खाते में लिए है। इस मामले की शिकायत सविता ने राज्य महिला आयोग की सदस्य पूनम कपूर से कर न्याय की गुहार लगाई है। राज्य महिला आयोग की सदस्य ने लिया मामले का संज्ञान लेते हुए कमिश्नर को पत्र लिख कर मामले को संज्ञान में ले कर जाँच कराने के आदेश दिए है और साथ ही लखनऊ में डीजीपी को भी इसकी जानकारी दी है।

राज्य महिला आयोग को लिखा गया पत्र
राज्य महिला आयोग को लिखा गया पत्र

यूपीआई के जरिए लेता था पैसा...
उपनिरीक्षक छोटे सिंह ने जो भी पैसा अपने खाते में मंगवाया है वह सब के सब ट्रांजेक्शन यूपीआई और आरटीजीएस के जरिये हुए है, इसका प्रमाण सविता मिश्रा ने राज्य महिला आयोग की सदस्य को लिखे पत्र के साथ दिए है। दिए गए प्रमाण के अनुसार यूपीआई के जरिए 36 हजार का ट्रांजेक्शन अगस्त के महीने में किया गया है। सविता ने बताया, इन दिए गए पैसों के अलावा कई बार आरटीजीएस के जरिए भी ट्रांजेक्शन किये गए है।

खबरें और भी हैं...