पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

IIT कानपुर से पढ़े अश्वनी को मोदी कैबिनेट में जगह:अश्विनी वैष्णव का है कानपुर से पुराना नाता, इस समय के डायरेक्टर के साथ हॉस्टल में बिता चुके हैं समय

कानपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मूलरूप से राजस्थान के रहने वाले पूर्व आईएएस अधिकारी अश्विनी वैष्णव को मोदी कैबिनेट में शामिल किया गया है। 1994 बैच के ओडिशा कैडर के पूर्व आईएएस अधिकारी अश्विनी वैष्णव 2004 में प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निजी सचिव थे। वो ओडिशा से राज्यसभा सांसद हैं। वैष्णव का कानपुर शहर से पुराना नाता रहा है।

अश्विनी वैष्णव ने आईआईटी कानपुर से सन 1994 में एमटेक इंडस्ट्रियल मैनेजमेंट इंजीनियरिंग में की थी। खास बात यह है कि 1994 में जब वह यहां से इंजीनियरिंग कर रहे थे तब इस समय के आईआईटी कानपुर के डायरेक्टर अभय करंदीकर भी यहीं से इंजीनियरिंग कर रहे थे। दोनों ही हाल 4 हॉस्टल में रहते थे।

इस मौके पर आईआईटी कानपुर के डायरेक्टर अभय करंदीकर ने कहा, जैसे ही मुझे पता चला कि अश्विनी वैष्णव जो की एक्स आईआईटियन को कैबिनेट में शामिल किया जा रहा है तो मुझे लगा कि एक और आईआईटियन देश कि सेवा में अपना योगदान देने के लिए खड़ा है। मुझे इससे ज्यादा खुशी इस बात की है की हम दोनों लोगों ने एक ही हॉस्टल शेयर किया था। जब कोई आपका ऐसा साथी ऐसे मुकाम पर पहुंचता है तो दिल से बहुत खुशी होती है।

कौन है अश्विनी वैष्णव
अश्विनी वैष्णव पीपीडी मॉडल में उनके योगदान के बारे में जाना जाता है। उसके बाद उन्होंने कई प्रमुख वैश्विक कंपनियों में भी अहम भूमिका निभाई है। जैसे जनरल इलेक्ट्रिक और साइमेंस अहम हैं। उन्होंने व्हार्टन स्कूल, पेनीसिल्वेनिया विश्वविद्यालय से एमबीए किया है।

खबरें और भी हैं...