• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • Been Circling For 7 Months To Get The Map Passed By Building, The Pass Was Done In 2 Hours, Even Today The Camp Will Be Held In KDA, KDA, KDA VC, Motijheel, Building Map, Kanpur

कानपुर... चंद घंटों में हो गया नक्शा पास:बिल्डिंग कर नक्शा पास कराने के लिए 7 महीने से लगा रहे थे चक्कर, 2 घंटों में हो गया पास, आज भी KDA में लगेगा कैंप

कानपुर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कैंप के पहले दिन 17 नक्शे कुछ ही घंटों में स्वीकृत कर दिए गए। - Dainik Bhaskar
कैंप के पहले दिन 17 नक्शे कुछ ही घंटों में स्वीकृत कर दिए गए।

शहर में अवैध निर्माणों पर हो रही लगातार कार्रवाई के बाद केडीए नक्शा भी तेजी से बना रहा है। इसको ध्यान में रखते हुए कानपुर विकास प्राधिकरण (केडीए) ने नक्शा निस्तारण कैंप लगाया। कैंप के पहले दिन 17 नक्शे कुछ ही घंटों में स्वीकृत कर दिए गए। केडीए में नक्शे के लिए करीब 1200 आवेदन पेंडिंग हैं।

7 महीने से लगा रहे थे चक्कर
सात महीने से नक्शा पास कराने के लेकर केडीए अफसरों के चक्कर लगा रहे आवंटी का शिविर में दो घंटे में नक्शा पास हो गया। नक्शा पास करने आए आवंटियों ने कहा कि जल्द नक्शे पास हो जाए तो अवैध निर्माणों पर लगाम लग जाएगी। केडीए वीसी अरविंद सिंह ने नक्शा समाधान शिविर का उदघाटन किया। इससे पहले लगाए गए कैंप में 130 नक्शे पास हो चुके हैं। 6 अक्टूबर से 8 अक्टूबर तक कैंप लगाया गया है।

मौके पर ही जमा कर सकते हैं शुल्क
कैंप में नक्शा पास कराने से पहले जमा होने वाले मलबा शुल्क समेत सभी तरह से पेमेंट करने के ऑप्शन मौजूद रहे। केडीए खुद ही मलबा शुल्क जमा कर रहा है। इस बार नगर निगम के कोई भी कर्मचारी मौजूद नहीं हैं। नक्शा पास करने आए आवेदक अनुराग अग्रवाल ने बताया कि फरवरी 2021 से नक्शा पास करने के लिए केडीए के चक्कर लगा रहा है। शिविर में उनके भवन का नक्शा तुरन्त स्वीकृत हो गया।

लोगों ने जताई खुशी
आवेदक हीरानन्द नारवानी द्वारा बताया गया कि पांच महीने पहले बांसमण्डी, का नक्शा स्वीकृति के लिए पोर्टल में लगाया था लेकिन अभी तक नहीं पास हुआ है। यह पारदर्शिता हो जाए तो जनता को चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। कैंप में कुछ घंटों में नक्शा पास हो गया। ऐसे ही कैंप हर महीने लगाए जाने चाहिए।

आज भी है कैंप
मोतीझील स्थित केडीए मुख्यालय में सुबह 10.30 बजे से शाम 4 बजे तक कैंप लगाया जाएगा।

खबरें और भी हैं...