गोरखपुर मनीष हत्याकांड:CBI जल्द गोरखपुर में डालेगी डेरा, कानपुर में भी मीनाक्षी से आएगी पूछताछ करने, जांच में बढ़ सकती है आरोपियों की संख्या

कानपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मृतक मनीष की पत्नी मीनाक्षी गुप्ता। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
मृतक मनीष की पत्नी मीनाक्षी गुप्ता। (फाइल फोटो)

गोरखपुर के चर्चित मनीष हत्याकांड में दीवाली बाद अब जल्द ही सीबीआई की टीम गोरखपुर में जांच के लिए डेरा डालेगी। इसके साथ ही कानपुर बर्रा स्थित मनीष के घर पहुंचकर उनकी पत्नी और पिता से भी पूरा मामला और उनकी तरफ से लगाए गए आरोपों को भी अपनी जांच में शामिल करेगी। सीबीआई जांच होने से अब आरोपी पुलिस कर्मियों की मुश्किलें बढ़ना तय है। इसके साथ ही आरोपियों की संख्या भी बढ़ सकती है।
CBI ने रामगढ़ ताल थाना और अफसरो सें संपर्क साधा
सीबीआई ने 2 नवंबर को मनीष हत्याकांड की एफआईआर दर्ज की थी। अब जल्द ही मनीष हत्याकांड की जांच करने के लिए सीबीआई की टीम जांच शुरू करेगी। सीबीआई ने जांच शुरू करने से पहले रामगढ़ ताल थाना और कप्तान से संपर्क किया है। सीबीआई की टीम गोरखपुर पहुंचकर सबसे पहले जिस कृष्णा पैलेस होटल में जांच करने जाएगी। इसके बाद मनीष की मौत के बाद पुलिस वाले जिस नर्सिंग होम और जिला अस्पताल ले गए थे दोनों जगह जांच करने जाएगी। फिर रामगढ़ ताल थाना में मनीष की मौत से संबंधित एफआईआर से लेकर अब तक की एक-एक लिखा-पढ़ी की जांच करेगी। सीबीआई जांच से अब छह आरोपी पुलिस वालों के साथ ही होटल मालिक समेत अन्य की मुश्किल बढ़ना तय है। सीबीआई जांच में अब छह पुलिस कर्मियों से ज्यादा आरोपियों की संख्या हो सकती है।
SIT की जांच का भी CBI करेगी अध्ययन
मनीष हत्याकांड की जांच मौजूदा समय में शासन की ओर से गठित एसआईटी कर रही है। एसआईटी ने छह हत्यारोपी पुलिस कर्मियों को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया है। सीबीआई को केस ट्रांसफर होने के बाद अब मामले की जांच सीबीआई करेगी, लेकिन एसआईटी की ओर से हत्याकांड में जुटाए गए साक्ष्य समेत अन्य जांच रिपोर्ट का अध्ययन करेगी। इससे सीबीआई को जांच में सहूलियत मिलेगी।

खबरें और भी हैं...