• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • Central GRP Gave Information To Income Tax Department, Arrested People Do Courier Work, Gold Is Supplied Till Lucknow And Banaras. Kanpur

करोड़ों के गोल्ड के साथ पकड़े गए 4 संदिग्ध:कानपुर में सेंट्रल GRP ने इनकम टैक्स विभाग को दी सूचना, पकड़े गए लोग लखनऊ और बनारस समेत कई अन्य जिलों में करते थे गोल्ड की सप्लाई

कानपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने जब पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि वह साईं कुरियर के लिए काम करते हैं और कुरियर का सामान कानपुर डिलीवर करने आए हैं। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने जब पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि वह साईं कुरियर के लिए काम करते हैं और कुरियर का सामान कानपुर डिलीवर करने आए हैं।

कानपुर सेंट्रल में सूचना मिलने पर जीआरपी ने आज दिन में चार संदिग्ध लोगों से लगभग 3 किलो 500 ग्राम सोना बरामद किया। जीआरपी ने सेंट्रल स्टेशन ब्रह्मपुत्र मेल से उतरे चारों लोगों की तलाशी ली तो इनके पास से सोना बरामद हुआ। शुरुआती पूछताछ के बाद जीआरपी ने इनकम टैक्स विभाग और GST को सूचना दी। जिस पर दोनों विभागों की टीमों ने आकर पड़ताल शुरू की।

पकड़े गये चारों संदिग्धों से देर रात तक पूछताछ जारी रही। अब तक हुई पूछताछ में जो बात सामने आई हैं, उसके मुताबिक पकड़े गए चारों लोग कोरियर का काम करते हैं। गोल्ड सप्लाई का काम लखनऊ और बनारस सहित कई जिलों में किया जाता है। जिसके बदले में उनको अच्छी खासी रकम मिलती है।

साईं कुरियर के लिए करते हैं काम

पुलिस ने जब पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि वह साईं कुरियर के लिए काम करते हैं और कुरियर का सामान कानपुर डिलीवर करने आए हैं। क्षेत्राधिकारी कमरुल हसन ने बताया कि बैग से सोने के बिस्कुट और सोने के आभूषण के अलावा हीरे की ज्वेलरी मिली है। पूछताछ में चारों ने बताया कि दिल्ली से गोल्ड कानपुर के अलावा बनारस और लखनऊ भी ले जाना था। वजन कराने पर सोना 3 किलो 500 ग्राम निकला।

पूछताछ में पकड़े गए गोल्ड के कागजों को नहीं दिखा पाए। पूछताछ में बताया कि दिल्ली के एक व्यापारी का यह सोना है। जिसके कुछ कागजात उनके पास है और कुछ पेपर लाना वह भूल गये। इसके बाद जीआरपी ने इनकम टैक्स और जीएसटी की टीम को सूचना दी।

सेल टेक्स और इनकम टैक्स विभाग ने शुरू की पड़ताल

गुरुवार को सेंट्रल स्टेशन पर चार व्यक्तियों बैग में रखा गया गोल्ड बरामद किया गया। जीआरपी इंस्पेक्टर ने चारों से पूछताछ के बाद IT और GST को सूचना दी। दोनों विभागों की टीम पकड़े गये चारों लोगों से जानकारी ले रहे हैं। प्लेटफार्म नम्बर 1 से पकड़े गये चारों व्यक्ति राजस्थान के रहने वाले हैं। पूछताछ में पकड़े गए लोगों ने खुद को दिल्ली की साईं पार्सल एजेंसी का बताया। उन्होंने बताया कि वह गोल्ड को डिलीवरी करने जा रहे थे।

खबरें और भी हैं...