कांग्रसियों ने रामलला को सौंपा शिकायत पत्र:कानपुर में कांग्रेसियों ने लगाए भाजपा मुर्दाबाद के बारे नारे, कहा- चंदा खोरों को जेल भेजो

कानपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने कहा कि आम जन की भावनाओं से खिलवाड़ किया गया है। - Dainik Bhaskar
कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने कहा कि आम जन की भावनाओं से खिलवाड़ किया गया है।

श्रीराम जन्मभूमि खरीद मामले पर कानपुर शहर की कांग्रेस दक्षिण कमेटी ने रावतपुर स्थित रामलला मंदिर में विरोध प्रदर्शन किया। कांग्रेसियों ने आरोप लगाया कि आर्थिक मुनाफाखोरी एवं चंदा गबन के प्रकरण विश्व हिंदू परिषद को श्वेत पत्र जारी करना चाहिए। पार्टी के नेताओं ने कहा कि आम जन की भावनाओं से खिलवाड़ किया गया है। विरोध कर रहे कांग्रेसियों ने प्रभु श्री राम के दर्शन कर उनके चरणों में प्रार्थना पत्र भेंट कर गबन करने वाले को सद्बुद्धि एवं मानवता के कल्याण की कामना की।

रामलला की पूजा अर्चना कर भाजपा विरोधी नारेबाजी की
अयोध्या में श्री रामजन्म भूमि तीर्थ ट्रस्ट में जमीन खरीद विवाद पर भाजपा और विहिप लगातार निशाने पर है। इसको लेकर आंदोलित शहर कांग्रेस दक्षिण के अध्यक्ष डॉ शैलेंद्र दीक्षित पार्टी कार्यकर्तायों के साथ विरोध किया। कांग्रसियों ने अनूठे ढंग से प्रभू श्री राम के दर्शन एवं चंदा खोरों के प्रति विरोध प्रदर्शन किया गया। श्री राम लला मंदिर में पत्र के साथ फूल माला व प्रसाद चढ़ाकर कांग्रेसियों ने पहले पूजा की। इसके बाद चंदाखोरी के विरोध में कांग्रेसियों ने भाजपा मुर्दाबाद, चंदा खोरों को जेल भेजो के नारे लगाए। कांग्रेसी हाथों में तख्ती लिए हुए थे, जिसमें लिखा था कि सीता मैया दुखी हैं। भाजपा के काम से सारा चंदा खा गए मेरे पति के नाम से। विरोध स्वरूप कांग्रेसी कार्यकर्ता काले झंडे लेकर नमक फैक्ट्री चौराहे पर प्रदर्शन किया।

दोषियों को जेल भेजने की मांग
दक्षिण कांग्रेस के अध्यक्ष डॉ शैलेंद्र दीक्षित ने कहा कि अयोध्या मंदिर निर्माण निधि में गबन एक बड़ा पाप है। इसके लिए भाजपा की सरकार के दोषी है। नकली राम भक्तों के चेहरे उजागर हुए हैं। इस शर्मनाक कृत्य से जनमानस की प्रभु श्री राम के प्रति आस्था का अपमान हुआ है। इसकी जितनी निंदा की जाए कम है। न्यायालय की देखरेख में इस घोटाले की जांच कर दोषियों को जेल भेजा जाए।

खबरें और भी हैं...