पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वकीलों और जज के बीच विवाद:जज व अधिवक्ताओं के बीच किसी केस में जमानत को लेकर हुआ विवाद, ADJ ने लगाया मारपीट का आरोप

उन्नाव4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
उन्नाव के एडीजे कोर्ट में जमानत को लेकर जज और अधिवक्ताओं के बीच कहासुनी हो गई। नौबत हाथापाई की आ गई। इसके बाद जज ने पुलिस के पास मारपीट की शिकायत की थी। - Dainik Bhaskar
उन्नाव के एडीजे कोर्ट में जमानत को लेकर जज और अधिवक्ताओं के बीच कहासुनी हो गई। नौबत हाथापाई की आ गई। इसके बाद जज ने पुलिस के पास मारपीट की शिकायत की थी।

उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले में कोर्ट रूम में विशेष न्यायाधीश और वकीलों के बीच गुरुवार को विवाद हो गया। जिसमें हाथापाई तक की नौबत आ गई। इस मामले में एडीजे पॉक्सो प्रह्लाद टंडन ने पुलिस से शिकायत में वकीलों पर गाली-गलौज करने और मारपीट का आरोप लगाया है। मोबाइल भी छीनने का आरोप लगाया गया है।

कोर्ट रूम में वकीलों पर जज से मारपीट का आरोप
विशेष न्यायाधीश पॉक्सो प्रह्लाद टंडन ने बार अध्यक्ष राम शंकर सिंह यादव समेत कुछ वकीलों पर कोर्ट में रूम में गाली गलौज और मारपीट करने का आरोप लगाया है। ADJ ने इस बात की शिकायत पुलिस से की है। शिकायत पत्र में गुरुवार सुबह 11 बजे के करीब कोर्ट में रूम में हुए इस विवाद की जानकारी देते हुए बताया कि, एडीजे की शिकायत पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ उचित कार्रवाई करने की बात कही है। उन्नाव पुलिस का कहना है कि गुरुवार सुबह कोर्ट रूम में विवाद की खबर मिलने के बाद फौरन पुलिस बल मौके पर पहुंच गया था। फिलहाल शांति व्यवस्था से संबंधित कोई समस्या नहीं है।

अधिवक्ताओं की समस्याओं को लेकर बातचीत करने गए थे

इस मामले को लेकर बार एसोसिएशन अध्यक्ष ने बताया कि बुधवार शाम को वह न्याय भवन स्थित कोर्ट नंबर 11 में अधिवक्ताओं की समस्याओं को लेकर बात करने गए थे। लेकिन न्यायिक अधिकारी ने बात सुनने के बजाय कहासुनी शुरू कर दिया। वहीं गुरुवार सुबह बार एसोसिएशन भवन में अधिवक्ता एकत्र हुए और पदाधिकारियों को बुलाकर एसोसिएशन की बैठक की गई। बैठक में न्यायिक कार्यों से विरत रहने का फैसला लिया गया।

न्यायिक अधिकारी और अधिवक्ताओं के बीच हुई कहासुनी

बताया कि इसके बाद अधिवक्तागण प्रदर्शन करते हुए जिला जज की न्यायालय की तरफ बढ़े कि इसी बीच न्यायिक अधिकारी और अधिवक्ताओं के बीच दोबारा कहासुनी की चर्चा फैलने से न्याय भवन में भारी संख्या में अधिवक्ता पहुंच गए। सूचना पर सीओ सिटी, कोतवाली प्रभारी व पीएसी के साथ पहुंच गए।

पुलिस अधिकारियों ने न्यायिक अधिकारियों से बातचीत की। इसके बाद बार एसोसिएसन के पदाधिकारियों और अधिवक्ताओं से बात कर शांत कराया। देर शाम जिला जज की पहल पर न्यायिक अधिकारियों व अधिवक्ताओं की बीच द्विपक्षीय वार्ता हुई। इसपर अधिवक्ताओं ने हड़ताल समाप्त करने का निर्णय लिया।