पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • Encroachment Is Being Done By Removing Idols In Muslim Dominated Areas, Attempt To Capture Another Temple In Colonelganj, List Of 125 Temples, Karnalganj, Chamanganj, Jajmau, Roshan Nagar, Kanpur

कानपुर में मंदिरों पर कब्जे के नापाक मंसूबे:मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों में मूर्तियों को हटाकर किया जा रहा अतिक्रमण, कर्नलगंज में एक और मंदिर में कब्जे की कोशिश, 125 मंदिरों की लिस्ट

कानपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कर्नलगंज में एक और प्राचीन शिव मंदिर में मूर्तियां हटाकर अतिक्रमण किया गया था। यहां दर्जनों बकरियों को बांधा जा रहा था। - Dainik Bhaskar
कर्नलगंज में एक और प्राचीन शिव मंदिर में मूर्तियां हटाकर अतिक्रमण किया गया था। यहां दर्जनों बकरियों को बांधा जा रहा था।

कानपुर में धर्मांतरण और आतंकी कनेक्शन के बाद एक और नापाक मंसूबा सामने आया है। यहां मुस्लिम आबादी वाले क्षेत्रों में स्थित प्राचीन मंदिरों पर अतिक्रमण किया जा रहा है। कानपुर में बीते 1 महीने में कई मामले सामने आ चुके हैं। चमनगंज के बाद अब कर्नलगंज में प्राचीन शिव मंदिर में मूर्तियों को हटाकर वहां बकरियां बांधकर कब्जा करने की बात सामने आई है। मंदिर का गुंबद भी टूट चुका है। मुस्लिम क्षेत्रों में स्थित 125 मंदिरों की लिस्ट बनाई गई है, जिसमें अवैध कब्जे हो चुके हैं।

चमनगंज स्थित मंदिर के अंदर पकाई जा रही थी बिरयानी।
चमनगंज स्थित मंदिर के अंदर पकाई जा रही थी बिरयानी।

शिवमूर्ति हटाकर बांध रहे थे बकरी
बुधवार को भी एक ऐसा ही मामला सामने आया। जहां कर्नलगंज में एक और प्राचीन शिव मंदिर में मूर्तियां हटाकर अतिक्रमण किया गया था। यहां दर्जनों बकरियों को बांधा जा रहा था। बुधवार को महापौर प्रमिला पांडेय ने भी मंदिर का निरीक्षण किया। जिसे देखकर महापौर भी हैरान रह गई। बता दें कि इससे पहले भी चमनगंज में मंदिर के अंदर बिरयानी पकाकर बेचे जाने के मामले में भी महापौर पहुंची थी।
125 मंदिरों में हो चुके कब्जे
कानपुर में मंदिरों में सुनियोजित तरीके से किए जा रहे कब्जे का मामला गर्माने लगा है। अखिल भारतीय मठ मंदिर समन्वय समिति ने लगभग 125 मंदिरों में कब्जों की लिस्ट तैयार की है। समिति के मुख्य संस्थापक संरक्षक बाल योगी अरुण चैतन्य पुरी ने आरोप लगाते हुए कहा कि शहर में हुए दंगों के बाद मंदिरों पर कब्जा करने की साजिश की गई है।

कर्नलगंज में महापौर ने पुलिस के साथ मंदिर को खाली कराया।
कर्नलगंज में महापौर ने पुलिस के साथ मंदिर को खाली कराया।

पलायन कर रहे हैं हिंदू
मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों में तेजी से हिंदू आबादी पलायन कर रही है। ऐसे में मंदिरों की देखरेख न होने से उन पर धीरे-धीरे कब्जे किए जा रहे हैं। इसको लेकर बीते दिनों सीएम को संबोधित समिति द्वारा कमिश्नर को ज्ञापन भी सौंपा जा चुका है। वहीं पुलिस ने भी दर्ज मामलों में जांच शुरू कर दी है। इसके अलावा अन्य मामलों में कार्रवाई करने की तैयारी की जा रही है।
मंदिरों में कब्जे के ये मामले आए सामने
-
तलाक मोहाल स्थित मंदिर की नींव में पानी भरा जा रहा था। मंदिर क्षति ग्रस्त होकर गिर गया।
-चमनगंज में मंदिर का मुख्य द्वार ही बंद कर दिया गया और अंदर कूड़ा डालकर अवैध कब्जे करना शुरू कर दिया गया था।
-बेकनगंज की सुनार वाली गली में मंदिर के अंदर बिरयानी पकाकर मंदिर के चबूतरे पर बेची जा रही थी। मामले 3 के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज की गई।
-कर्नलगंज स्थित शिव मंदिर में कब्जा कर अवैध तरीके से बकरियों को बांधा जा रहा है।
इन क्षेत्रों में हुए मंदिरों में कब्जे
सुजातगंज, जाजमऊ, चमनगंज, बेकनगंज, तलाक महल, रोशन नगर, मछरिया, बाबूपुरवा, वाजिदपुर।

खबरें और भी हैं...