• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • Even In The Night Vision Cameras Of The Forest Department, There Was No Trace, The Villagers Remained In Panic. Leopard In Kanpur, Kanpur Zoo, Kanpur Forest Department, Nawabganj, Ganga Katri, Kanpur

कानपुर में 48 घंटों से तेंदुए की दहशत:दो शावकों के साथ कर रही शिकार; 15 गांवों के लोग खेतों पर नहीं जा रहे

कानपुर3 महीने पहले

कानपुर में 48 घंटे से तेंदुए का आतंक जारी है। गंगा कटरी में मादा तेंदुआ अपने शावकों के साथ चहल-कदमी कर रही है। गांव के लोग दहशत में जीने को मजबूर हैं। किसान खेतों में नहीं जा रहे हैं। शाम होते ही गांव के लोग अपने घरों में कैद हो जाते हैं। अब तक मादा तेंदुआ एक बछड़े और सूअर का शिकार कर चुकी है। वन विभाग टीम उसकी तलाश में पिंजड़े लगा चुकी है। वन विभाग के नाइट विजन कैमरे में तेंदुए की कोई हरकत रिकॉर्ड नहीं हुई है।

कटरी तेंदुआ के लिए नैचुरल हैबिटेंट- DFO ने कहा

वन विभाग ने भगवानदीनपुरवा में तेंदुए को पकड़ने के लिए जाल लगाया है।
वन विभाग ने भगवानदीनपुरवा में तेंदुए को पकड़ने के लिए जाल लगाया है।

तेंदुआ के खौफ से कटरी के 4 गांव भगवानदीन पुरवा, भोपालपुरवा, बनियापुरवा, दुर्गापुरवा में लोग ज्यादा डरे हुए हैं। पिछले 15 दिनों में तेंदुआ अपने दो शावकों के साथ इस क्षेत्र में कई जानवरों पर हमला कर चुका है। इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि तेंदुआ मादा है।

वन विभाग की 9 लोगों की टीम 10 किमी की रेंज में तेंदुआ की तलाश कर रही है। डिस्ट्रिक्ट फॉरेस्ट ऑफिसर अरविंद यादव ने बताया, "कटरी का बड़ा क्षेत्र तेंदुए के लिए नैचुरल हैबिटैट है। यहां उनका आना-जाना लगातार बना रहता है। ऐसा अनुमान है कि मादा तेंदुआ गंगा किनारे किसी ठंडे स्थान पर छिपकर बैठी है। गर्मी की वजह से वह दिन के उजाले में बाहर नहीं निकल रही है। रात के वक्त ही शावकों के साथ निकलती है। उसके पंजे के निशान भी मिले हैं।

कटरी के गांवों में कैमरे लगाए गए हैं, ताकि तेंदुआ का मूवमेंट देखा जा सके।
कटरी के गांवों में कैमरे लगाए गए हैं, ताकि तेंदुआ का मूवमेंट देखा जा सके।

2 पिंजरे, 4 नाइट विजन कैमरे लगाए
4 नाइट विजन कैमरे और 2 पिंजरे लगाए गए हैं। इनमें तेंदुआ की कोई हरकत नहीं हुई है। गंगा कटरी इलाके के भगवानदीन का पुरवा समेत दर्जनों गावों को अलर्ट मोड पर रखा गया है। ग्रामीणों को सर्तक रखने के साथ ही खुद की और मवेशियों का ध्यान रखने की हिदायत दी गई है।

कटरी एरिया में तेंदुआ के पग चिह्न मिले हैं।
कटरी एरिया में तेंदुआ के पग चिह्न मिले हैं।

पटाखा फोड़ रहे, कनस्तर बजा रहे
वन विभाग की टीम जंगलों में पटाखों को फोड़कर और कनस्तर बजाकर ढूंढने की कोशिश कर रही है। झाड़ियों और मिट्टी की सुरंगों में भी तलाश की जा रही है। फिलहाल वन विभाग की टीम को इसमें सफलता नहीं मिली है। प्रभागीय वन अधिकारी अरविंद यादव तेंदुआ को पकड़ने के लिए नाइट विजन कैमरों की मॉनिटरिंग कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...