राजू का वेंटिलेटर सपोर्ट तीसरी बार थोड़ी देर हटाया:मुख्य सलाहकार बोले- देशभर की दुआओं का हो रहा असर, पैरों और हाथों में बढ़ा मूवमेंट

कानपुर5 महीने पहले

एम्स दिल्ली में भर्ती कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव का वेंटिलेटर सपोर्ट आज तीसरी बार थोड़ी देर के लिए हटाया गया है। राजू श्रीवास्तव के मुख्य सलाहकार अजीत सक्सेना ने बताया कि देशभर की दुआओं का असर हो रहा है। उनके परिजनों से बातचीत हुई है। उन्होंने बताया कि थोड़ी देर के लिए वेंटिलेटर हटाया गया था, फिर लगा दिया गया है। ऑक्सीजन सपोर्ट धीरे-धीरे कम किया जा रहा है।

राजू श्रीवास्तव के हाथ-पैर का मूवमेंट पहले से बढ़ा है। आज 21वें दिन भी वह वेंटिलेटर सपोर्ट पर हैं। परिवार और डॉक्टर्स को उम्मीद है कि वे जल्द होश में आएंगे।

ऑक्सीजन सपोर्ट 40%
राजू के परिवार के करीबी रिश्तेदार ने बताया कि ऑक्सीजन सपोर्ट बीते 36 घंटे से 40% ही है। हालांकि इससे पहले ऑक्सीजन सपोर्ट को 20% कम किया गया था। इसका मतलब ये है कि 60% ऑक्सीजन राजू नैचुरली ले रहे हैं और बॉडी को 40% ऑक्सीजन वेंटिलेटर सपोर्ट से दी जा रही है। बता दें कि ब्रेन में संक्रमण से पहले राजू को ऑक्सीजन सपोर्ट मात्र 20% ही दी जा रही थी।

गले में डाली गई है नली
राजू के भाई के मुताबिक, अब ऑक्सीजन मुंह से न देकर गले से दी जा रही है। गले में कट लगाकर ऑक्सीजन दी जा रही है। वहीं उन्हें रोजाना लिक्विड डाइट दी जा रही है। उन्हें नली के जरिए आधा-आधा लीटर दूध और जूस दिया जा रहा है। उन्हें यूरिन पास और मोशन भी हो रहे हैं।

राजू अपनी पत्नी शिखा के साथ।
राजू अपनी पत्नी शिखा के साथ।

होश में लाना बड़ा चैलेंज
आज राजू को एम्स में भर्ती होने का 21वां दिन है। अभी तक उन्हें होश नहीं आ सका है। उन्हें होश में लाने के लिए डॉक्टर्स हर प्रयास कर रहे हैं। वहीं ब्रेन के अपरहेड में ऑक्सीजन पहुंचाने के लिए न्यूरो फीजियोथेरेपी का सहारा भी लिया जा रहा है।

बॉडी में बढ़ा है मूवमेंट
राजू की बॉडी में लगातार मूवमेंट बढ़ रहा है। अब वे खुद से ही अपने पैरों और हाथों को मोड़ रहे हैं। हालांकि वे होश में जरा भी नहीं हैं। संक्रमण के चलते बॉडी में मूवमेंट बिल्कुल बंद हो गया था, लेकिन अब धीरे-धीरे मूवमेंट बढ़ रहा है। डॉक्टर्स इन्हें अच्छे सुधार मान रहे हैं।

मुख्यमंत्री कार्यालय से ली गई जानकारी
राजू श्रीवास्तव की सेहत को लेकर मुख्यमंत्री के OSD दिनेश सहगल ने सोमवार को उनके सेहत की जानकारी एम्स के डॉक्टर्स और उनकी पत्नी से ली। उन्होंने हर तरह की दिक्कत के बारे में पूछा। वहीं दिल्ली के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन भी राजू के इलाज को पर्सनली मॉनीटर कर रहे हैं और लगातार एम्स के डॉक्टर्स से अपडेट ले रहे हैं।