कानपुर में भाजपा जिला अध्यक्ष और विधायक में घमासान:शिकायत के बाद हुई पहली संघठन की बैठक, चुनाव प्रचार के बचे सिर्फ 9 दिन

कानपुर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भाजपा किदवई नगर में अंदरुनी घमासान चरम पर है। चुनाव प्रचार के मात्र कुछ दिन ही बचे है, फिर फिर भी भाजपाई आपसी राजनीति में फंसे हुए हैं। किदवई नगर विधानसभा में विधायक और दक्षिण जिला अध्यक्ष में 36 का आंकड़ा बना हुआ है। सहयोग नहीं करने पर विधायक महेश त्रिवेदी ने प्रदेश नेतृत्व को दक्षिण भाजपा अध्यक्ष बीना आर्या की शिकायत भी कर दी है। शिकायत के बाद मंगलवार को पहली बार किदवई नगर विधानसभा में संगठन की पहली सभा आयोजित की गई, जिसमें तय किया गया कि किस तरह से संगठन के लोगों को विधानसभा में सक्रिय किया जाए।

शीर्ष नेतृत्व ने मामला किया संज्ञान में

विधायक महेश त्रिवेदी की शिकायत के बाद भाजपा शीर्ष नेतृत्व में बीना आर्य को अभी तक बैठक नहीं करने पर तलब किया। साथ ही 24 घंटे के भीतर किदवई नगर में संगठन की सक्रियता सुनिश्चित कर अगले एक सप्ताह के कार्यक्रम भी भेजने के निर्देश दिए।

इसके बाद कल मंगलवार को किदवई नगर विधानसभा की पहली संगठन की बैठक आयोजित हुई, जिसमें अगले सप्ताह का चुनाव प्रचार का शेड्यूल तय किया गया। बुधवार को पहली विधायक महेश त्रिवेदी ने संगठन के तय कार्यक्रम के हिसाब से चुनाव प्रचार की शुरुआत की।

विधायक और जिलाध्यक्ष में शुरू से रही है तनातनी

कानपुर दक्षिण भाजपा जिला अध्यक्ष बीना आर्या और विधायक महेश त्रिवेदी में शुरू से तनातनी चली आ रही। चुनाव के वक्त भी अंदरूनी घमासान थमने का नाम नहीं ले रही थी। पूर्व में ऐसे कई कार्यक्रम रहे हैं, जिनमें दोनों की आपसी द्वन्द सड़कों तक दिखाई दिया था। भाजपा ने पूर्व में कई बार बीना आर्य पर गंभीर आरोप लगाये हुये है। कई कार्यक्रम जिनमें लोकार्पण और शिलान्यास के मौके पर बीना आर्या नहीं पहुंची थी। जबकि संगठन के कई कार्यक्रमों में विधायक के पहुंचने से पहले ही कार्यक्रम शुरु करा दिए गए थे। विधायक और अध्यक्ष के बीच इस तरह की उठा पटक की चर्चाएं आम रही है।

खबरें और भी हैं...