कानपुर में लेखपाल के बच्चों के अपहरण की कोशिश:मां ने बदमाशों से भिड़कर बचाया, शोर मचाने पर भागे असलहाधारी 4 लोग

कानपुर2 महीने पहले
CCTV फुटेज में दिख रहा कि शोर मचाने पर बदमाश घर से भाग गए।

कानपुर के बिधनू में दिनदहाड़े असलहाधारी बदमाशों ने लेखपाल के घर से बच्चों के अपहरण का प्रयास किया। घर में मौजूद मां बदमाशों से भिड़ गई और शोच मचा दिया। मां और बच्चों की चीख सुनकर बदमाश डर गए। बगैर वारदात को अंजाम दिए ही भाग निकले। लेखपाल के घर लगे CCTV में पूरी वारदात कैद हो गई। बिधनू पुलिस मामले में FIR दर्ज कर जांच कर रही है। CCTV फुटेज की मदद से बदमाशों को पकड़ने का प्रयास किया जा रहा है।

CCTV में दिख रहा कि एक बदमाश बोतल लेकर पानी मांगने के लिए दरवाजा खुलवाया।
CCTV में दिख रहा कि एक बदमाश बोतल लेकर पानी मांगने के लिए दरवाजा खुलवाया।

चार बदमाश पानी मांगने के बहाने घर में घुसे
मूलरूप से पतारा निवासी लेखपाल आलोक तिवारी नारामऊ में तैनात हैं। पांच साल से वह बिधनू थाने की कोरियां चौकी क्षेत्र के कठोंगर नई बस्ती में पत्नी अरुणा, बेटे आदित्य (8) और बेटी आद्या (5) के साथ रहते हैं। आलोक तिवारी ने बताया कि शनिवार दोपहर असलहाधारी चार बदमाश पानी मांगने के बहाने पहुंचे। इसके बाद घर में घुस कर बच्चों के अपहरण का प्रयास किया। पत्नी अरुणा और बच्चों ने शोर मचाया तो बदमाश पकड़े जाने के डर से भाग निकले। जानकारी मिलते ही लेखपाल घर पहुंचे और पुलिस को सूचना दी। वारदात के बाद से पूरा परिवार सदमे में हैं।

मामले की जानकारी मिलते ही ACP घाटमपुर दिनेश शुक्ला, बिधनू थाना प्रभारी फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। CCTV फुटेज की जांच की तो पता चला कि पूरी वारदात आवाज के साथ CCTV कैमरे में कैद है। लेखपाल ने अपने घर को CCTV कैमरे से लैस करवा रखा है। ACP ने बताया कि लेखपाल की तहरीर पर अपहरण समेत अन्य गंभीर धाराओं में FIR दर्ज करके मामले की जांच की जा रही है।

लेखपाल की पत्नी अरुणा ने जैसे गेट खोलकर पानी दिया, इतने में एक-एक कर 4 बदमाश घर में घुस गए।
लेखपाल की पत्नी अरुणा ने जैसे गेट खोलकर पानी दिया, इतने में एक-एक कर 4 बदमाश घर में घुस गए।

पानी के बहाने अपहरण की कोशिश
फुटेज में दिख रहा है कि 4 युवक घर के बाहर पहुंचे और एक ने पीने के लिए पानी मांगा। अरुणा ने आकर पानी दिया। इसके बाद वह युवक किसी का घर पूछने लगा। बात करते-करते अचानक वह झपटा और अंदर घुस गया। पुलिस के मुताबिक, एक-एक कर तीन युवक अंदर गए और बच्चों को दबोच लिया। इस पर अरुणा बदमाशों से भिड़ गईं। एक बदमाश ने उन पर हमला कर दिया, जिसमें कंधा उखड़ गया। लेकिन, वह शोर मचाते हुए भिड़ी रही। घबराए बदमाश बच्चों को उठाने में नाकाम रहे और भाग निकले।

घर में घुसे बदमाशों मे से एक के हाथ में तमंचा भी था। लाल रंग के घेरे में आप तमंचा देख सकते हैं।
घर में घुसे बदमाशों मे से एक के हाथ में तमंचा भी था। लाल रंग के घेरे में आप तमंचा देख सकते हैं।

जमीन के विवाद में वारदात की आंशका
ACP ने बताया कि घर आए बदमाश पानी लेने के बहाने दरवाजे पर पहुंचे थे। इस दौरान वह यही बोल रहे थे कि उन्हीं भाई साहब का घर है जो जमीनों पर कब्जा करवाते हैं। इससे पुलिस को आशंका है कि लेखपाल से रंजिश में किसी ने वारदात को अंजाम दिया है। इसके साथ ही अन्य बिंदुओं पर भी पुलिस जांच-पड़ताल कर रही है। ACP ने बताया कि वारदात का खुलासा करने के लिए चार टीमों का गठन किया गया है।