कानपुर... चौबेपुर का पनऊपुरवा हत्याकांड:वारदात के दौरान दबंग के घर दारू-मुर्गा पार्टी कर रहे चार पुलिस कर्मी लाइन हाजिर, जांच के बाद होगी विभागीय कार्रवाई

कानपुर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चौबेपुर के पनऊपुरवा में पुलिस के सामने दबंगों ने बुजुर्ग को पीट-पीट कर मार डाला। - Dainik Bhaskar
चौबेपुर के पनऊपुरवा में पुलिस के सामने दबंगों ने बुजुर्ग को पीट-पीट कर मार डाला।

चौबेपुर के पनऊपुरवा हत्याकांड में आईजी मोहित अग्रवाल की सख्ती के बाद एसपी आउटर अष्टभुजा प्रसाद ने वारदात के वक्त वहां मौजूद चार पुलिस कर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया है। एसपी ने बताया कि हत्याकांड में पुलिस के लापरवाही की अलग से जांच की जा रही है। जांच पूरी होते ही दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई भी की जाएगी।
एक सप्ताह में पुलिस के लापरवाही की पूरी होगी जांच
आईजी रेंज कानपुर मोहित अग्रवाल ने बताया कि हत्याकांड के दौरान वहां मौजूद चौबेपुर थाने के चार पुलिस कर्मी दरोगा गोपी किशन, दरोगा रोशन शेर बहादुर, हेड कांस्टेबल शिव रतन और कांस्टेबल आशीष कुमार को प्राथमिक जांच में लापरवाही मिलने पर लाइन हाजिर कर दिया गया है। इसके साथ ही पूरे मामले की जांच एसपी आउटर को एक सप्ताह में पूरी करके जांच रिपोर्ट देने का समय दिया गया है। जांच रिपोर्ट आने के बाद दोष के आधार पर हत्याकांड के दौरान वहां मौजूद पुलिस कर्मियों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी।
इन सवालों के आधार पर तैयार होगी जांच रिपोर्ट
मामले की जांच कर रहे एसपी आउटर अष्टभुजा प्रसाद ने बताया कि मामले की जांच शुरू कर दी है। जांच में यह देखा जा रहा है कि क्या हत्याकांड के दौरान वहां पुलिस कर्मी पहले से मौजूद थे...? अगर मौजूद थे तो वहां क्या करने गए थे...?हत्याकांड के बाद पुलिस कर्मियों ने क्या एक्शन लिया...? थाने पर सूचना दी की नहीं दी...? अगर वहां मौजूद थे तो कोई कार्रवाई क्यों नहीं की...? इसके साथ ही अन्य सवालों के साथ जांच की जा रही है। दोषी पुलिस कर्मियों को किसी भी सूरत में छोड़ा नहीं जाएगा।