• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • From Here, Gangs Of Nigerian Thugs All Over The Country Cheat People On Social Media By Bluffing, Revealed In The Investigation Of Crime Branch

ठगी के धंधे में दिल्ली के 100 से अधिक नाइजीरियन:कानपुर में अरेस्ट मास्टरमाइंड का खुलासा, बोला- वीजा खत्म होने के बावजूद तमाम साथी दिल्ली में, वहीं से चल रहा ठगी का खेल

कानपुर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नाइजीरियन ओकुवारिमा मोसिस । - Dainik Bhaskar
नाइजीरियन ओकुवारिमा मोसिस ।

दिल्ली में 100 से ज्यादा नाइजीरियन ठगों ने डेरा डाल रखा है। यह दिल्ली में बैठकर देशभर के लोगों को सोशल मीडिया पर अलग-अलग तरह से झांसे में लेकर ठगी कर रहे हैं। कोई मेडिकल वीजा पर दिल्ली आया था तो कोई टूरिस्ट वीजा पर भारत पहुंचा था। लेकिन वीजा खत्म होने के बावजूद अवैध तरीके से रह रहे हैं। यह चौंकाने वाला खुलासा बीते 31 जुलाई को कानपुर क्राइम ब्रांच के हत्थे चढ़े नाइजीरियन ओकुवारिमा मोसिस ने पूछताछ में किया है।

दरअसल, नवाबगंज की महिला से 4.50 लाख की ठगी के मामले में क्राइमब्रांच ने नाइजीरियन ओकुवारिमा मोसिस को पकड़ा था। वह मेडिकल वीजा पर इलाज के लिए भारत आया था। 2019 में उसके वीजा की अवधि खत्म होने के बाद भी वह चोरी-छिपे नई दिल्ली में रहता था। जल्द ही क्राइम ब्रांच नाइजीरियन ठगों के गैंग में शामिल अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी कर सकती है। दो महिलाएं समेत 6 नाइजीरियन क्राइम ब्रांच की रडार पर हैं।

नाइजीरियन ठग ओकुवारिमा मोसिस।
नाइजीरियन ठग ओकुवारिमा मोसिस।

दो महिलाओं समेत 6 नाइजीरियन हिरासत में
डीसीपी क्राइम सलमान ताज पाटिल ने बताया कि ओकुवारिमा से पूछताछ की गई। उसके लैपटॉप, पेन ड्राइव समेत अन्य दस्तावेजों के आधार पर जांच की गई तो सामने आया है कि दिल्ली में एक-दो नहीं सैकड़ों नाइजीरियन ठगों का डेरा है। ठगी के नाइजीरियन गैंग से जुड़े अन्य आरोपियों का नाम भी सामने आया है। जल्द ही उन सभी को भी गिरफ्तार करके जेल भेजा जाएगा।

दो महिलाओं समेत छह से ज्यादा नाइजीरियन ठगों को शक के आधार पर हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। ठगी में शामिल होने की पुष्टि होते ही इन्हें गिरफ्तार करके जेल भेजा जाएगा। क्राइमब्रांच की टीमें लगातार नाइजीरियन ठगों के ठिकानों पर छापेमारी करके के साथ ही जांच-पड़ताल में जुटी हुई हैं।

युवती को इस तरह बनाया था ठगी का शिकार
24 जुलाई को कानपुर के नवाबगंज थाने में एक युवती ने 4 लाख रुपए ठगी का मुकदमा दर्ज कराया था। युवती का आरोप था कि इंस्टाग्राम पर केविन हेरिसन नाम के एक नाइजीरियन युवक ने उनसे इंस्टाग्राम पर दोस्ती की थी। इसके बाद वॉट्सऐप और फेसबुक मैसेंजर पर चैटिंग शुरू कर दी।

इस दौरान उसने बताया कि वह यूके का नागरिक है। दोस्ती होने के चलते अब वह ज्वैलरी समेत कुछ महंगे गिफ्ट भेजना चाहता है। युवती के हां करने के बाद उसी युवक ने कस्टम विभाग का अधिकारी बनकर फोन करके बताया कि आपका कीमती गिफ्ट एयरपोर्ट पर आ गया है। इसके बाद उसने धीरे-धीरे करके अलग-अलग मदों में 4.50 लाख रुपए ठग लिया।

महंगे गिफ्ट और लॉटरी का झांसा देकर करते हैं ठगी
नाइजीरियन ठगों का गैंग फेसबुक, इंस्टाग्राम समेत अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर विदेशी बनकर यहां के लोगों से दोस्ती करते हैं। इसके बाद उन्हें झांसे में लेकर ज्वैलरी जैसे महंगे गिफ्ट या फिर लाखों-करोड़ों की लॉटरी का झांसा देकर कस्टम ड्यूटी समेत अन्य चार्ज लेकर लाखों की ठगी करते हैं। गैंग में सिर्फ नाइजीरिया के पुरुष ही नहीं कई महिलाएं भी शामिल हैं। जो पुरुषों को झांसे में लेने का काम करती हैं।

खबरें और भी हैं...