पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सीएसजेएम यूनिवर्सिटी का एग्जाम शिड्यूल तय:कानपुर में 16 जुलाई से होंगी यूजी और पीजी की अंतिम वर्ष की परीक्षाएं, डेढ़ घंटे का होगा पेपर, 25 अगस्त तक आएगा रिजल्ट

कानपुर2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कानपुर विश्वविद्यालय। - Dainik Bhaskar
कानपुर विश्वविद्यालय।

उत्तर प्रदेश के कानपुर की छत्रपति शाहूजी महाराज विश्वविद्यालय ने यूजी और पीजी की परीक्षा का शिड्यूल जारी कर दिया है। ग्रेजुएट व पोस्ट ग्रेजुएट की अंतिम वर्ष की परीक्षाएं 16 जुलाई से शुरू होंगी। शुक्रवार शाम को परीक्षा समिति की बैठक में तय किया गया। सिर्फ 17 दिन में एक अगस्त तक सभी परीक्षाएं संपन्न हो जाएंगी। सभी कक्षाओं का परीक्षा परिणाम भी 25 अगस्त तक घोषित करने की बात इस बैठक में कही गई।

कोरोना काल के चलते इस वर्ष एक विषय की सिर्फ एक परीक्षा होगी, जबकि पिछले वर्षों में एक विषय में तीन पेपर होते थे। सभी परीक्षाएं बहुविकल्पीय होंगी। पेपर की समय अवधि डेढ़ घंटे की होगी। एक सितंबर से नया सत्र शुरू करने की तैयारी की जा रही है। यह फैसला विवि की परीक्षा समिति में लिया गया। बैठक में कई मुद्दों को लेकर सदस्यों के बीच तीखी नोकझोंक भी हुई।

दरअसल, सीएसजेएमयू में गुरुवार को परीक्षा समिति की बैठक में कुलपति प्रो. विनय कुमार पाठक की अगुआई में सदस्यों के बीच चर्चा चल रही थी। कुलपति ने शासन के निर्देशानुसार, परीक्षा कराने का प्रस्ताव रखा। जिस पर सदस्यों ने अपनी-अपनी राय रखी। एक विषय का एक पेपर व बहुविकल्पीय पेपर कराने को लेकर कूटा के पदाधिकारियों ने जमकर विरोध किया। कूटा के अध्यक्ष डॉ. बीडी पांडेय व महामंत्री डॉ. अवधेश सिंह ने इसका कड़ा विरोध करते हुए कहा, ऐसा परीक्षा कराने से छात्रों के साथ साथ हम लोगों का भी नुकसान होगा। हालांकि अन्य सदस्यों की सहमति के बाद इसे पास कर दिया गया।

2020 में बैकपेपर वाले छात्र को किया जाएगा प्रमोट

बैठक में एक अहम फैसला भी लिया गया, जिसमें वर्ष 2020 की परीक्षा देने वाले फेल छात्र और जिनका बैकपेपर आया था उन सभी छात्रों को औसत अंक के साथ प्रमोट कर दिया जाएगा। उन्हें बैकपेपर नहीं देना होगा।

खबरें और भी हैं...