आईआईटी कानपुर में शोध को मिलेगा बढ़ावा:आईआईटी के पूर्व छात्र ने दिया 1.75 लाख यूएस डॉलर का दान, आईआईटी कानपुर के मानविकी व सामाजिक विज्ञान विभाग में शोध के लिए पवित्रा जोनेजा चेयर की होगी स्थापना

कानपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पवित्रा जोनेजा चेयर की होगी स्थापना। - Dainik Bhaskar
पवित्रा जोनेजा चेयर की होगी स्थापना।

उत्तर प्रदेश के कानपुर के आईआईटी में मानविकी व सामाजिक विज्ञान विभाग में शोध के लिए श्रीमती पवित्रा जोनेजा चेयर की स्थापना की जाएगी। इस चेयर के लिए संस्थान के पूर्व छात्र व पवित्रा जोनेजा के बेटे डॉ. देव जोनेजा ने 1.75 लाख यूएस डॉलर (तकरीबन 1.27 करोड़) दान दिया है। इसकी मदद से तकनीक संस्थान में अब सामाजिक विज्ञान व मानविकी में भी अनुसंधान होगा। जिससे समाज को और अधिक बेहतर बनाया जा सके। आईआईटी के निदेशक प्रो. अभय करंदीकर ने डॉ. जोनेजा के प्रति आभार जताया है।

प्रोफेसर अभय करंदीकर ने बताया कि श्रीमती पवित्रा जोनेजा चेयर गहन शोध करने और मानविकी और सामाजिक विज्ञान से संबंधित विषयों पर अपने ज्ञान को व्यापक बनाने के इच्छुक छात्रों के लिए उपयुक्त मंच है। वर्षों से डॉ. देव जोनेजा ने अपने अल्मा मेटर के लिए महत्वपूर्ण योगदान दिया है। संस्थान को बढ़ावा देने और कई वर्षों से इसे अकादमिक उत्कृष्टता के शीर्ष पर रखने के लिए निस्वार्थ भाव से काम करने के लिए मैं उन्हें धन्यवाद देना चाहता हूं।

सहयोग देने के लिए जताया आभार

डीन ऑफ रिसोर्सेज और एलुमनाई, प्रो. जयंत के. सिंह ने कहा कि हम श्री जोनेजा की उदारता के लिए और आईआईटी कानपुर में उत्कृष्टता का समर्थन करने और अपने अल्मा मेटर को अपना सहयोग देने वाली संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए उनके आभारी हैं।

1984 में आईआईटी कानपुर से मैकेनिकल इंजीनियरिंग करने वाले डॉ. देव जोनेजा ने संस्थान को 1.75 लाख डॉलर दान दिया है। इस बजट से अंग्रेजी, ललित कला, दर्शनशास्त्र, मनोविज्ञान व समाजशास्त्र विषय में रिसर्च करने का मौका मिलेगा। इसमें राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन, पत्रिकाओं, लेख, पुस्तकों, परामर्श परियोजनाओं में शोध कार्य भी शामिल होगा। डॉ. देव इससे पहले भी कई तरह से संस्थान में योगदान कर चुके हैं। डॉ. देव के सहयोग से सिविल इंजीनियरिंग विभाग में उनके पिता अर्जुन देव जोनेजा फैकल्टी चेयर की स्थापना की गई थी।