• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • In An Attempt To Implicate The Youth In Drugs If The Recovery Is Not Received, The Investigation Also Sat On The Controversial Tweet Against Modi

क्राइमब्रांच के दो सिपाही लाइन हाजिर:वसूली नहीं मिलने पर युवक को मादक पदार्थ में फंसाने की कोशिश की थी, अब मोदी के खिलाफ विविदित ट्वीट पर भी बैठी जांच

कानपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कानपुर पुलिस कमिश्नर बीपी जोगदंड। - Dainik Bhaskar
कानपुर पुलिस कमिश्नर बीपी जोगदंड।

कानपुर पुलिस कमिश्नर बीपी जोगदंड ने शनिवार को क्राइमब्रांच में तैनात दो सिपाहियों को लाइन हाजिर कर दिया। आरोप है कि दोनों ने वसूली नहीं मिलने पर एक युवक पर जबरन मादक पदार्थ में जेल भेजने का प्रयास किया था। इसके बाद दोनों के खिलाफ जांच बैठी थी। इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ भी एक सिपाही ने विवादित ट्वीट किया था।

सिपाही 48 पुड़िया मादक पदार्थ कहां से लाए, इसकी भी चल रही जांच

ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर बीपी जोगदंड ने बताया कि अप्रैल में क्राइम ब्रांच में तैनात सिपाही बंधन कटियार और अरविंद सिंह ने एक युवक को पकड़ा था। दावा किया था कि वह मादक पदार्थ बेचता है। युवक के पास कोई बरामदगी नहीं होने पर तत्कालीन रायपुरवा थाना प्रभारी विनय शर्मा ने आपत्ति जताई थी। इसके कुछ देर बाद ये सिपाही मादक पदार्थ की 48 पुड़िया ले आए थे। इस पर इंस्पेक्टर ने सिपाहियों की शिकायत कर दी थी।

जांच की गई तो कांस्टेबल अरविंद सिंह और बंधन कटियार दोषी पाए गए थे, लेकिन अब तक कार्रवाई नहीं की गई थी। शनिवार को पुलिस कमिश्नर बीपी जोगदंड ने फिर से शिकायत मिलने पर दोनों को लाइन हाजिर कर दिया।

मादक पदार्थ बरामदगी में फंसे सिपाही

रायपुरवा थाना प्रभारी ने क्राइमब्रांच के सिपाहियों को बरामदगी नहीं होने पर युवक के खिलाफ एफआईआर दर्ज करके जेल भेजने से इनकार कर दिया था। इसके कुछ देर बाद ही दोनों सिपाही मादक पदार्थ की 48 पुलिस लेकर पहुंच गए थे। अब सबसे बड़ा सवाल है कि सिपाही 48 पुड़िया मादक पदार्थ कहां से लाए थे। फिलहाल इस बात को लेकर विभागीय जांच चल रही है।

खबरें और भी हैं...