पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • In The CCTV Footage Of The Temple, The Mahant Was Imprisoned While Stealing From The Donation Box, Panki Police After Investigation Filed A Report On The Orders Of The Commissioner

कानपुर में पनकी हनुमान मंदिर का महंत निकला चोर:पुलिस ने जितेंद्र दास के खिलाफ FIR दर्ज की, दानपात्र से चोरी करते हुए CCTV में कैद; मंदिर की गद्दी पर चल रहा विवाद

कानपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चोरी के आरोप में फंसे महंत जितेंद्र दास लाल घेरे में और सामने एफआईआर दर्ज कराने वाले महंत कृष्ण दास। - Dainik Bhaskar
चोरी के आरोप में फंसे महंत जितेंद्र दास लाल घेरे में और सामने एफआईआर दर्ज कराने वाले महंत कृष्ण दास।

कानपुर में पंचमुखी हनुमान मंदिर पनकी धाम के महंत जितेंद्र दास पर बुधवार सुबह पनकी थाने में चोरी और धमकी देने की एफआईआर दर्ज कर ली गई है। यह एफआईआर किसी और ने नहीं मंदिर के दूसरे महंत कृष्णदास ने दर्ज कराई है। पुलिस कमिश्नर असीम अरुण से कृष्णदास के शिकायत करने के बाद मामले में जांच कराई थी। जांच में चोरी का आरोप सही मिलने के बाद यह रिपोर्ट दर्ज की गई है। पिछले लंबे समय से मंदिर के दोनों महंतों के बीच अधिकारों को लेकर झगड़ा चल रहा है।

दान पात्र से रुपए निकालते हुए महंत जितेंद्र दास सीसीटीवी फुटेज में हुए थे कैद।
दान पात्र से रुपए निकालते हुए महंत जितेंद्र दास सीसीटीवी फुटेज में हुए थे कैद।

जांच में आरोप सही पाए जाने पर पनकी पुलिस ने दर्ज की एफआईआर
पनकी मंदिर महंत कृष्ण दास ने बताया कि छोटे महंत जितेंद्र दास 1 जुलाई 2021 को सुबह 6:10 बजे सार्वजनिक दान पात्र से पैसा निकालते हुए सीसीटीवी फुटेज में कैद हुए थे। पंचमुखी हुनमान मंदिर की सनातनी व्यवस्था से दान पात्र से आने वाले रुपए से संपूर्ण मंदिर के खर्चों का भुगतान किया जाता है। अगर इस तरह मंदिर के दान पात्र से चोरी हुई तो व्यवस्था बिगड़ने के साथ ही भक्तों का विश्वास उठेगा।

सीसीटीवी फुटेज सामने आने के उनके साथ ही मंदिर कमेटी के अन्य लोगों ने इसका विरोध किया। आरोप है कि इस पर आरोपी महंत ने उन्हें जान से मारने की धमकी भी दी। इसके बाद उन्होंने संतों के प्रतिनिधि मंडल के साथ कमिश्नर असीम अरुण से मिलकर मामले में एफआईआर दर्ज करने की मांग की थी। कमिश्नर के आदेश के बाद पनकी पुलिस ने मामले की जांच की और आरोप सही पाए जाने पर महंत जितेंद्र दास के खिलाफ चोरी और जान से मारने की धमकी देने की धाराओं में एफआईआर दर्ज की है।

पनकी मंदिर कानपुर का एक प्राचीन मंदिर है।
पनकी मंदिर कानपुर का एक प्राचीन मंदिर है।

महंत के चोरी करने से आस्था को ठेस
एफआईआर दर्ज कराने वाले मंदिर के महंत कृष्ण दास का आरोप है कि ऐसा पहली बार नहीं हुआ है। बीते कई सालों से छोटे महंत इस तरह की हरकतों को अंजाम दे रहे हैं। इससे मंदिर और यहां के महंतों की गरिमा धूमिल हो रही है। मामले में एफआईआर दर्ज कराने के साथ ही उन्होंने सुरक्षा की भी मांग की है।

महंत कृष्ण दास के अनशन की धमकी के बाद दर्ज हुई रिपोर्ट
पनकी महंत कृष्ण दास ने जितेंद्र पर पुलिस प्रशासन की कोई कार्यवाही न होने से क्षुब्ध होकर अनशन करने की चेतावनी दी थी। आरोप था कि जितेंद्र दास रुपए निकालते हुए सीसीटीवी में कैद हुए हैं। इसके बाद भी पुलिस दबाव में कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। इसके बाद कमिश्नर से मामले में जांच बैठाई और आरोप सही पाए जाने पर एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया।

इससे पहले मारपीट का सीसीटीवी हुआ था वायरल
पनकी मंदिर में गद्दी को लेकर कई साल से विवाद चल रहा है। इसी के चलते दोनों महंतों में आए दिन टकराव और आरोप-प्रत्यारोप का दौर चलता रहता है। इससे पहले दोनों महंतों के बीच मारपीट का सीसीटीवी फुटेज वायरल होने से जमकर फजीहत हुई थी।

खबरें और भी हैं...