• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • In The Resolution Day, Officials Took Quick Action, Raids Were Conducted At Public Convenience Centers, Kanpur DM Neha Sharam, Sampurna Samadhan Diwas, Kanpur Commissioner, Kanpur Police, Kanpur Bal Bhawan, Kanpur

शिकायत आते ही तत्काल एक्शन:समाधान दिवस में अधिकारियों ने की त्वरित कार्रवाई, जनसुविधा केंद्रों पर कराई गई छापेमारी

कानपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कमिश्नर, पुलिस कमिश्नर और डीएम समेत सभी विभागों के प्रमुख अधिकारियों ने लोगों की समस्याओं को सुना। - Dainik Bhaskar
कमिश्नर, पुलिस कमिश्नर और डीएम समेत सभी विभागों के प्रमुख अधिकारियों ने लोगों की समस्याओं को सुना।

आचार संहिता हटने के बाद दूसरी बार आयोजित हुआ संर्पूण समाधान दिवस में अधिकारियों ने तत्काल एक्शन लिया। कुछ शिकायतों पर समाधान दिवस के दौरान ही तत्काल राजस्व टीमों और पुलिस को मौके पर भेजकर जांच कराई गई। वहीं बरसों से शिकायत लेकर भटक रहे लोगों ने समाधान पाकर खुशी जाहिर की। वहीं कुल 83 शिकायतों में 6 का निस्तारण मौके पर किया गया।

जनसुविधा केंद्रों की आई शिकायत
समाधान दिवस में शिकायत आई कि जनसुविधा केंद्रों पर तय रेट पर कोई काम नहीं होता है। इस पर डीएम ने तत्काल उप निदेशक कृषि अरुण कुमार को 8 जनसुविधा केंद्रों की जांच कराई। मौके पर आवेदनकर्ता बनकर उपनिदेशक पहुंचे तो पूरी व्यवस्था की पोल खुल गई। आय, जाति, निवास प्रमाण पत्र के लिए तय रेट 30 रुपए है जबकि 150 से 200 रुपए वसूले जा रहे थे। डीएम ने सभी SDM को निर्देश दिए कि तय रेट से अधिक वसूली करने वालों पर कार्रवाई की जाए।

समाधान दिवस में आई शिकायतों काे सुनती हुईं डीएम नेहा शर्मा।
समाधान दिवस में आई शिकायतों काे सुनती हुईं डीएम नेहा शर्मा।

इन अधिकारियों को नोटिस जारी
फूलबाग में आयोजित समाधान दिवस में कमिश्नर डा. राज शेखर, पुलिस कमिश्नर विजय सिंह मीना, डीएम नेहा शर्मा समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे। वहीं डीएम ने दिवस में न पहुंचने पर जिला सेवायोजन अधिकारी, अधिशासी अभियंता ग्रामीण अभियंत्रण, महाप्रबंधक जिला उद्योग केंद्र, मुख्य कार्यकारिणी अधिकारी, भूमि संरक्षण अधिकारी और ग्राम प्रवर्तन अधिकारी के न आने पर कारण बताओ नोटिस जारी की चेतावनी दी है।

बरसों से भटक रही थी महिला
संपूर्ण समाधान दिवस में मौके पर 6 शिकायतों का निस्तारण किया गया। इसमें 2 शिकायत केडीए की बरसों से चक्कर काट रही महिला वनिता सोनकर की भी थी। लल्लन पुरवा मलिन बस्ती नवाबगंज वनिता द्वारा प्लॉट लिया गया था। केडीए में पूरा पैसा जमा करने के बाद भी रजिस्ट्री नहीं की गई थी। डीएम ने केडीए ओएसडी भैरम पाल सिंह को तत्काल रजिस्ट्री कराई।

मौके पर भेजी गई टीम
डीएम के सामने गांव कठारा ब्लाक बिधनू निवासी विजयलक्ष्मी ने शिकायत की कि दबंगों ने उनकी भूमि पर जबरन कब्जा कर लिया है। डीएम ने तत्काल मौके पर पुलिस और राजस्व विभाग की टीम को भेजकर जांच कराई। पुलिस विभाग की 24 शिकायतें आई। 2 शिकायतों पर पुलिस कमिश्नर ने FIR दर्ज कराई। जबकि परमपुरवा जूही निवासी अमित गुप्ता ने पत्नी की घर वापसी की शिकायत की। इस पर पुलिस को मौके पर भेजा गया।

टीचरों को कारण बताओ नोटिस
एआर कोऑपरेटिव द्वारा 5 प्राथमिक विद्यालयों का औचक निरीक्षण भी कराया गया। पाया गया कि सरसैया घाट प्राथमिक विद्यालय, मनीराम बगिया प्राथमिक विद्यालय, हालसी रोड प्राथमिक विद्यालय, रिजर्व पुलिस लाइन प्राथमिक विद्यालय तथा परमट प्राथमिक विद्यालय का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान हालसी रोड प्राथमिक विद्यालय में हेड मास्टर के हस्ताक्षर थे किंतु वे उपस्थित नहीं थी। रिजर्व पुलिस लाइन प्राथमिक विद्यालय शिक्षामित्र उपस्थित थी किंतु हेड मास्टर मेडिकल लिव पर थीं। डीएम ने अब्सेंट टीचरों को कारण बताओ नोटिस जारी किया।

इन विभागों की मिली शिकायतें
विभाग- संख्या
पुलिस- 24
राजस्व विभाग- 22
पीओ डूडा- 4
डीएसओ- 9
केडीए- 8
नगर निगम- 7
केस्को- 7
सीएमओ- 1