भास्कर की खबर पर मोहर, ग्रीनपार्क पिच ने बदला रंग:भारतीय स्पिनरों ने बिखेरा जलवा, लड़खड़ाई न्यूजीलैंड की पारी

कानपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विकेट लेने के बाद खुशी का इजहार करते अक्षर पटेल - Dainik Bhaskar
विकेट लेने के बाद खुशी का इजहार करते अक्षर पटेल

भारत व न्यूजीलैंड के बीच कानपुर के ग्रीन पार्क स्टेडियम में खेले जा रहे सीरीज के पहले टेस्ट मुकाबले के तीसरे दिन स्पिन गेंदबाजों का जलवा देखने को मिला। दोनों टीमों के कोच से लेकर कप्तान तक पहले से स्पिन ट्रैक होने की बात कह रहे थे। इसलिए दोनों टीमें तीन तीन फिरकी स्पिनरों के साथ मैदान में उतरीं थीं। हालांकि शुरुआती दो दिन स्पिन गेंदबाज़ रंग में नजर नहीं आ रहे थे। लेकिन तीसरा दिन होते-होते उन्होंने लय पकड़ ली है। पहले दिन जहां कीवी फिरकी गेंदबाजों का प्रदर्शन औसत से कम रहा। वहीं, दूसरे दिन लंच के बाद गेंदबाजी करने आए भारतीय स्पिन गेंदबाज भी बेअसर नजर आए। लेकिन तीसरे दिन भारतीय गेंदबाजों ने अपना जलवा बिखेरना शुरू कर दिया। लंच से पहले जहां कीवी बल्लेबाज़ लय में नजर आ रहे थे, वहीं लंच के बाद फिरकी का जादू के रंग दिखाना शुरू कर दिया।

27 रन पर चार बल्लेबाज लौटे पवेलियन
गंगा नदी के किनारे बने स्टेडियम में पहले सेशन में पिच में नमी होने के कारण लंच से पहले जहां भारतीय तेज गेंदबाजों ने अच्छी गेंदबाजी की। वहीं लंच के बाद जैसे ही आसमान में सूरज चढ़ने के साथ विकेट ने सूखने के साथ टूटना शुरू किया। वैसे ही भारतीय फिरकी गेंदबाजों ने कीवी बल्लेबाजों को अपने जाल में फंसाना शुरू कर दिया। सबसे पहले अक्षर पटेल ने 94 वें ओवर की तीसरी गेंद में रास टेलर को विकेटकीपर केएस भरत के हाथों लपकवाया। इसके बाद हेनरी निकोलस और भारतीय टीम के लिए खतरा बना टाल लाथम को भी चलता किया। वहीं रविंद्र जडेजा ने भी उनका खूब साथ निभाया। इसके चलते तीसरे दिन के पहले सेशन तक मजबूत नजर आ रही कीवी टीम की पारी लड़खड़ा गई और उनके 27 रन पर कीवी टीम के चार बल्लेबाज पवेलियन लौट गए। टी तक कीवी टीम ने छह विकेट खोकर 249 रन बनाए।

पहले दिन से दिख रहा अनइवन बाउंस, कमेंटेटर ने उछाला था यह मुद्दा...
ग्रीन पार्क विकेट पर असमतल उछाल पहले दिन से ही देखने को मिल रहा था। कमेंटेटर भी इस पर पहले ही दिन ही सवाल उठा चुके हैं। वहीं तीसरा दिन आते-आते विकेट पर गेंद उछलना बंद कर दिया है। जिसके चलते कीवी बल्लेबाज भारतीय फिरकी गेंदबाजों के सामने नतमस्तक हो गए। टी के बाद बल्लेबाजी करने आए टाल ब्लंडेल व काइल जैमिसन पहले ही ओवर से फिरकी गेंदबाज़ों के सामने जूझते नजर आए। टी के बाद दूसरे ही ओवर अक्षर ने ब्लंडेल को चलता कर दिया। यह गेंद उनके घुटने के नीचे तक ही रही। यह पहली बार नहीं था जब गेंद ने विकेट में पड़ने के बाद उछाल नहीं भार। इससे पहले भी कई गेंदे विकेट पर पड़ने के बाद उछलती नज़र नहीं आई। वहीं, मैच पहले और दिन कमेंटेटरों ने भी यह मुद्दा उठाया था। कमेंटेटर आकाश चोपड़ा और इरफान पठान ने पहले ही दिन 5वें ओवर की चौथी गेंद के बाद पिच लेकर सवाल उठाए। टिम साउदी की इस गेंद का मयंक अग्रवाल ने सामान किया था और यह गेंद भी घुटने के नीचे रही थी।