महानंदा एक्सप्रेस में आरपीएफ-जीआरपी की छापेमारी:12 नाबालिगों को अगवा कर ले जाने की मिली थी सूचना, 7 संदिग्ध हिरासत में

कानपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पकड़े गए संदिग्धों से पूछताछ करते आरपीएफ और जीआरपी के अफसर। - Dainik Bhaskar
पकड़े गए संदिग्धों से पूछताछ करते आरपीएफ और जीआरपी के अफसर।

12 नाबालिग बच्चों को अगवा कर ले जाने की सूचना पर आज आरपीएफ और जीआरपी की टीम ने महानंदा एक्सप्रेस में छापेमारी की। इस दौरान टीम ने 7 लोगों को हिरासत में लेकर लिया। इनसे पूछताछ की जा रही है। हिरासत में लिए गए आरोपियों के बारे में पुलिस ने जानकारी देने से इनकार कर दिया। इस दौरान कानपुर सेंट्रल स्टेशन पर हड़कंप मचा रहा।

सेंट्रल स्टेशन पर मचा रहा हड़कंप

रविवार रात महानंदा एक्सप्रेस कानपुर सेंट्रल पर आकर रुकी। इस दौरान किसी ने जीआरपी और आरपीएफ को सूचना दी कि ट्रेन में 12 बच्चों को अगवा कर कुछ लोग ले जा रहे हैं। इस पर टीम ने ट्रेन में चेकिंग अभियान चलाया। इससे वहां हड़कंप मच गया। जीआरपी और आरपीएफ की टीम ने एक-एक बोगी की तलाशी ली और संदिग्धों से पूछताछ भी की। आरपीएफ इंस्पेक्टर आरके द्विवेदी ने बताया कि इस दौरान 7 संदिग्धों को हिरासत में लिया गया। इनसे पूछताछ की जा रही है।

पहले भी हो चुकी वारदातें

बता दें कि इससे पहले भी कई बार विभिन्न ट्रेनों में अगवा कर ले जाए जा रहे बच्चे बरामद किए गए हैं। अधिकतर बच्चे यूपी और बिहार से अगवा कर या फिर बहला-फुसलाकर ले जाया जाता है। इसके बाद इन्हें दूसरे शहरों में बेच दिया जाता है। कई बार जीआरपी और आरपीएफ की टीमें ऐसे मामलों का खुलासा कर चुकी हैं। इसलिए, चेकिंग अभियान भी चलाकर इन पर लगाम लगाने के प्रयास किए जाते हैं।