इटावा में हत्या के विरोध में प्रदर्शन:1 जून को ITI छात्र की गोली मारकर की गई थी हत्या, विरोध में 400 ग्रामीणों ने ग्वालियर-इटावा हाईवे जाम कर दिया

इटावा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हत्या के विरोध में इटावा-ग्वालियर हाईवे जाम। - Dainik Bhaskar
हत्या के विरोध में इटावा-ग्वालियर हाईवे जाम।

इटावा में आईटीआई छात्र अमन यादव की हत्या की जांच में लापरवाही बरतने पर परिजनों और सैकड़ों ग्रामीणों ने गरुवार को शव को ग्वालियर-इटावा हाइवे पर रख जोरदार प्रदर्शन किया। पुलिस उपाधीक्षक राजीव प्रताप सिंह ने बताया कि अमन की हत्या के खुलासे के लिए अपराध शाखा के साथ कई अन्य टीमों को सक्रिय कर 7 दिन में खुलासे के निर्देश दिए गए हैं।

गांव वालों ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया
अमन का उसके गांव अजबपुर मे अंतिम संस्कार किया जाने वाला था कि अचानक कई लोगों ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाकर सवाल उठाना शुरू कर दिया। जिसके बाद लगभग 300-400 गांव वाले शव लेकर एसएसपी आवास की तरफ जाने लगे।

लेकिन पुलिस की मुस्तैदी के चलते उन्हें ग्वालियर-बरेली मार्ग पर नगला गौर के पास रोक लिया गया। जिसके बाद सीओ राजीव प्रताप सिंह और एसडीएम सिदार्थ समेत पुलिस बल मौके पर पहुंचा और कड़ी मशक्कत के बाद परिवार वालों को शव के अंतिम संस्कार के लिए मनाया गया।

1 जून को अमन को गोली मारी गई थी
1 जून को अमन को उस समय गोली मारी गई थी जब वह मंडी मे बेचने के लिए मिर्ची लेकर मोटरसाइकिल से जा रहा था। उस दिन घटनास्थल से एक तमंचा, जला हुआ मोबाइल ओर एक लेडीज चप्पल मिला था। तीन दिन बीत जाने के बाद भी हमलावरों के बारे में कोई सुराग नहीं लग सका। जिसके बाद गांव वाले आक्रोशित हो गए।

खबरें और भी हैं...