पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कानपुर...ट्रेन में मिले 1.40 करोड़ अब तक रिलीज नहीं:गाजियाबाद की कंपनी ने क्लेम कर 74 लाख टैक्स चुकाए; मगर अफसरों के 7 सवालों में उलझी, GRP से रिपोर्ट तलब

कानपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
16 फरवरी को स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एक्सप्रेस की पैंट्री कार में लावारिस हालत में एक ट्राली बैग मिला था। बैग में 1.40 करोड़ रुपए थे। - Dainik Bhaskar
16 फरवरी को स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एक्सप्रेस की पैंट्री कार में लावारिस हालत में एक ट्राली बैग मिला था। बैग में 1.40 करोड़ रुपए थे।

कानपुर में चार माह पहले स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एक्सप्रेस ट्रेन में मिले 1 करोड़ 40 लाख रुपए अभी रिलीज नहीं हो सका है। इन रुपए पर क्लेम पर करने वाली गाजियाबाद की बीएसफोर कंपनी ने रुपए रिलीज करवाने के लिए 74 लाख रुपए का इनकम टैक्स जमा किया है। लेकिन कंपनी अभी आयकर विभाग के 7 सवालों का जवाब नहीं दे सकी है। वहीं, जीआरपी ने भी अभी फाइनल रिपोर्ट नहीं दी है। आयकर विभाग ने जीआरपी से रिपोर्ट मांगी है।

16 फरवरी को ट्रेन में लावारिस मिला था बैग

16 फरवरी को स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एक्सप्रेस की पैंट्री कार में लावारिस हालत में एक ट्राली बैग मिला था। जीआरपी ने जब बैग खोला तो उसमें रुपए थे। रुपयों की गिनती हुई तो 1.40 करोड़ की रकम निकली। इस घटना के 2 हफ्ते के बाद गाजियाबाद की बीएसफोर कंपनी ने बैग और उसमें रखे रुपए पर दावा किया था। एक मार्च को कंपनी के कर्मचारी लेजर बुक और बहीखाते लेकर आयकर विभाग पहुंच गए। आयकर विभाग की पूछताछ में कंपनी ने स्वीकार किया है कि इस रकम पर टैक्स नहीं दिया था। ये भी दावा किया कि इस रकम से कर्मचारियों को बोनस आदि का भुगतान करना था। आयकर विभाग ने पूछा कि सीधे कर्मचारियों के बैंक खाते में पैसे ट्रांसफर क्यों नही किए तो संतोषजनक जवाब नहीं मिला।

रुपयों पर क्लेम करने वाली कंपनी को विभाग ने क्लीन चिट नहीं दिया है। भारी भरकम टर्नओवर के बावजूद कंपनी आयकर विभाग के कुछ सवालों के जवाब आज तक नहीं दे सकी। इस बीच कंपनी ने बचने के लिए 74 लाख रुपए इनकम टैक्स के रूप में जमा कर दिए थे। इसके बावजूद आयकर विभाग ने 1.40 करोड़ रुपए रिलीज नहीं किए हैं।

इन सवालों के जवाब अभी नहीं मिले

  • रुपए से भरा बैग लावारिस क्यों छोड़ा ?
  • डिप्टी एसएस कामर्शियल के कंट्रोल रूम पर रेलवे इंटरकाम से 15 फरवरी की रात 2 बजे किसने फोन किया?
  • बैग की डिलीवरी देने के लिए रेलवे इंटरकाम पर फिर फोन किसने किया?
  • कर्मचारियों द्वारा आईडी पूछने पर फोन करने वाले ने आरपीएफ के कंट्रोल रूम पर एडीजी रेलवे बनकर फोन क्यों किया?
  • लगातार नाम बदलकर फोन क्यों किए गए?
  • पैसे का रेलवे गेस्ट हाउस कनेक्शन क्या है?
  • क्या ये पैसा कमीशन का है?
खबरें और भी हैं...