पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • One Accused Arrested, Both Brothers Raped For 5 Months By Making Obscene Videos, Many Pieces Of The Child In The Stomach Due To Abortion Medicines, The Condition Of The Victim Is Very Serious

गैंगरेप पीड़िता के पेट में टुकड़े-टुकड़े भ्रूण, हालत गंभीर:कानपुर में प्रेग्नेंट होने के बाद भी 16 साल की लड़की से रेप करते रहे सगे भाई, एक गिरफ्तार

कानपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गैंगरेप के आरोपी रूप सिंह और गुलबदन सिंह। गुलबदल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। रूप फरार है। - Dainik Bhaskar
गैंगरेप के आरोपी रूप सिंह और गुलबदन सिंह। गुलबदल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। रूप फरार है।

कानपुर के साढ़ थाने में किशोरी से गैंगरेप मामले में पुलिस ने एक आरोपी को मंगलवार रात गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि, मुख्य आरोपी अभी भी फरार चल रहा है। उसको पकड़ने के लिए पुलिस ने तीन टीमें बनाई हैं। इस बीच पीड़िता की हालत बिगड़ती जा रही है। हैलट के डाक्टरों का कहना अबॉर्शन की दवाइयों की वजह से पीड़िता के गर्भ में भ्रूण टुकड़ों में बंट गया है। गर्भ ठहरने के बाद भी उसके साथ दुष्कर्म होता रहा है।

लड़की को नशीला पदार्थ सुंघाकर उसके साथ किया था रेप
साढ़ क्षेत्र के एक गांव में एक युवक ने पड़ोस में रहने वाली 16 साल की लड़की को नशीला पदार्थ सुंघाकर उसके साथ रेप किया था। इसकी वीडियो क्लिप भी बना ली थी। जब यह बात आरोपी के दूसरे भाई को पता चली तो उसने भी किशोरी को डरा धमकाकर रेप किया। इस तरह बीते 5 माह से दोनों भाई किशोरी से रेप करते रहे। किशोरी के गर्भवती होने पर उन दोनों ने लड़की को अबॉर्शन की ओवर डोज दे दी।

समय रहते नहीं मिला इलाज
लड़की की हालत बिगड़ने पर परिजनों ने जब मामले की शिकायत पुलिस से की तो पुलिस मामला दबाने में जुट गई। लेकिन किशोरी की हालत देखकर उसका मेडिकल करवाने के बाद उसको कांशीराम ट्रामा सेंटर में भर्ती करवाया। वहां के डॉक्टरों से भी जब यह मामला नहीं संभला तो उसे जिला महिला अस्पताल डफरिन भेज दिया गया, जहां डॉक्टरों ने उस केस को लेने से ही मना कर दिया और उसे हैलट भेज दिया गया।

हैलट अस्पताल की डॉ. आरती सिंह ने बताया कि अबॉर्शन की दवाइयों की वजह से उसके पेट में जो चार महीने का बच्चा था, वो टुकड़ों में बंट गया है। इस वजह से इन्फेक्शन काफी ज्यादा फैल गया है। जब पीड़ित गर्भवती हुई थी उसके बाद भी इस लड़की के साथ दुष्कर्म किया गया है, जिसकी वजह से इंटरनल ब्लीडिंग हुई थी। पीड़िता के चचेरे भाई ने बताया कि अगर समय रहते मेरी बहन को इलाज मिल जाता तो यह नौबत नहीं आती।

पीड़ित की हालत इतनी गंभीर की बयान भी नहीं दे सकी
पीड़ित लड़की की हालत इतनी गंभीर है कि मजिस्ट्रेट दो बार आकर लौट चुके हैं। लेकिन उसका बयान दर्ज नहीं किया जा सका है। डाॅक्टरों का कहना है कि ब्लीडिंग से शरीर में खून की काफी कमी के कारण वीकनेस बहुत है। इस वजह से पीड़ित को अभी ऑब्जरवेशन में रखा है।

दूसरे आरोपी की तलाश जारी
इस मामले पर एडिशनल एसपी घाटमपुर आदित्य कुमार शुक्ला ने बताया कि एक लड़की के परिजनों की शिकायत पर मंगलवार को आरोपी भाइयों रूप सिंह और गुलबदन सिंह पर गैंगरेप की एफआईआर दर्ज कर ली गई थी। हम लोगों ने तीन टीम गठित पकड़ने के लिए। मंगलवार रात हमने छोटे भाई को गांव के बाहर से गिरफ्तार कर लिया है। अब इस मामले के मुख्य आरोपी रूप सिंह की तलाश में की जा रही है।

खबरें और भी हैं...