कानपुर के हेमंत पहुंचे लाफ्टर चैलेंज सेमीफाइनल में:अब फाइनल जीतने का है सपना, बोले- मेरी रग-रग में कनपुरिया अंदाज भरा है

कानपुर6 महीने पहले

कवि हेमंत पांडेय सोनी इंटरटेनमेंट के लॉफ्टर चैलेंज के सेमीफाइनल में पहुंच गए हैं। उनका ठेठ कनपुरिया अंदाज खूब पसंद किया जा रहा है। हेमंत का सपना अब इस प्रोग्राम का फाइनल जीतना है। उनका इस कार्यक्रम के लिए सोनी एंटरटेनमेंट से पांच साल का करार भी हुआ है।

लॉफ्टर चैलेंज एक कॉमेडी शो है, जिसमें देशभर के कवियों और हास्य कलाकारों को दर्शकों को गुदगुदाने का मौका मिला है।

सोनी चैनल ने खुद कॉल कर मुंबई बुलाया
हेमंत पांडेय बताते हैं, ‘‘मेरे पिता केदार नाथ पांडेय इंडियन ऑयल से रिटायर्ड हैं। उनका सपना था कि कभी मुझे भी टीवी शो में बड़ा मौका मिले। पहले मैं कई न्यूज चैनलों में कविता पढ़ चूका हूं। मैं काव्य पाठ के लिए विदेश भी जाता रहता हूं। इस दौरान मेरी कविताओं का वीडियो वायरल हुआ। इसके बाद सोनी चैनल वालों ने अप्रैल में कॉल कर मुझे मुंबई बुलाया। वहां पायलट शूट कराया। करीब एक महीने बाद कॉल आई कि मैं सेलेक्ट हो गया हूं। उसके तीन दिनों बाद शूटिंग की डेट दी गई।’’

सोनी के एपिसोड में पहुंचने वाले तीसरे हास्य कलाकार बने
हेमंत बताते हैं, ‘‘29 मई को मेरी पहली शूटिंग हुई और 11 जून को पहला शो आया। खास बात यह थी कि मैं लॉफ्टर चैलेंज के पहले ही एपिसोड में आया था।’’

कानपुर से राजू श्रीवास्तव और राजू निगम के बाद इस शो के सेमीफाइनल में पहुंचने वाले हेमंत तीसरे व्यक्ति हैं। रविवार को भी इस शो के एपिसोड में वह आए थे, जिसमें वह सेमीफाइनल में पहुंचे। सोनी पर लॉफ्टर चैलेंज शो हर शनिवार और रविवार को रात साढ़े नौ बजे प्रसारित होता है।

कानपुर के हेमंत पांडेय 2010 से लगातार मंचों पर हास्य कवि के रूप में लोगों को गुदगुदा रहे हैं।
कानपुर के हेमंत पांडेय 2010 से लगातार मंचों पर हास्य कवि के रूप में लोगों को गुदगुदा रहे हैं।

कनपुरिया अंदाज में है गहरी पैठ
हेमंत डीबीएस कॉलेज से पढ़े हैं। उनका कहना है, ‘‘मेरी रग-रग में कनपुरिया अंदाज भरा है। भाभी जी घर पर हैं… के कलाकार एवं हास्य अभिनेता कानपुर के अन्नू अवस्थी ने मेरा काफी सपोर्ट किया। अन्नू अवस्थी ने सोशल मीडिया पर मेरा वीडियो डालकर लोगों से सुनने की अपील की। इसके बाद ही मेरा वीडियो देखकर सोनी वालों ने बुलावा भेजा। सेमीफाइनल में पहुंचने पर हास्य कलाकार राजू श्रीवास्तव ने भी मुझे फोन कर बधाई दी है।’’

12 को जा रहे हैं बैंकॉक
उन्होंने बताया कि कानपुर के ही राजू निगम सोनी के इंडियाज लॉफ्टर चैंपियन प्रोग्राम के स्क्रिप्ट हेड हैं। उन्होंने बहुत सपोर्ट किया। सेमीफाइनल में पहुंचने में उनका काफी सहयोग रहा। 12 अगस्त को हेमंत कुमार विश्वास के साथ काव्य पाठ करने बैंकॉक जा रहे हैं। इसके अलावा भी कई प्रोग्राम लगे हैं, लेकिन फोकस लॉफ्टर चैलेंज का फाइनल जीतना ही है।

कविता पढ़कर सिद्धू और अर्चना पर किया व्यंग्य
हेमंत ने बताया, ‘‘लॉफ्टर चैलेंज शो में पहले नवजोत सिद्धू भी गेस्ट के रूप में आते थे, मगर अब अर्चना पूरन सिंह आती हैं। सेमीफाइनल जीतने वाले एपीसोड में मैंने इसी पर कटाक्ष करते हुए एक कविता पढ़ी थी, जिसे खूब सराहा गया।’’

उन्होंने कहा, ‘‘एक ठहाके वाली मेरा दाना-पानी ले गई, ठोको ताली वाली वो कहानी ले गई। पंजाब वाली कुर्सी फलाने ले गए, मुंबई वाली कुर्सी फलानी ले गई। इसमें मैंने नवजोत सिद्धू पर व्यंग्य कसा था।’’

संघर्षों के बीच बीता हेमंत का बचपन
हेमंत पांडेय पनकी के शताब्दी नगर में रहने वाले हैं। उनका बचपन संघर्षों के बीच बीता। बड़े हुए तो कोचिंग पढ़ा कर गुजर-बसर की। फिर हास्य कविताएं लिखने लगे, मगर मंच नहीं मिले। हां, बार-बार ताने जरूर मिलते रहे। कुछ ने हिकारत भरी नजर से भी देखा।

एक जगह काव्य पाठ के दौरान मंच पर बड़े कवि से टीवी शो में बुलाने की गुजारिश की तो उन्होंने कह दिया कि तुम इस लायक नहीं हो। बस...यही टीस उन्हें संघर्ष के लिए प्रेरित करती रही। नतीजा, आज वह इस मुकाम पर पहुंच चुके हैं।