पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

महिलाओं को दिया झांसा:हॉस्पिटल में अच्छी नौकरी का लालच देकर कई महिलाओं को भेजा विदेश, वहां पर उसे झाडू-पोछा की मिली नौकरी; शारीरिक शोषण भी हुआ

कानपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कानपुर। विदेश में अच्छी नौकरी का झांसा देकर महिलाओं की तस्करी करने वाले शातिर को क्राइमब्रांच ने शुक्रवार को बंगलुरू से गिरफ्तार कर लिया। एक-दो नहीं सैकड़ों महिलाओं को झांसा देकर मुस्लिम देशों में भेज दिया। जाने के बाद वहां अच्छी नौकरी तो नहीं, लेकिन सफाई कर्मचारी की नौकरी जरूर मिली। इस दौरान महिलाओं का वहां शरीरिक शोषण भी हुआ। परिजनों ने एफआईआर दर्ज कराई तो पुलिस ने जांच के बाद कई महिलाओं को विदेश से वापस बुलाया और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

ओमान में अभी भी फंसी हैं बीस से ज्यादा महिलाएं
डीसीपी क्राइम सलमान ताज पाटिल ने बताया कि मानव तस्करी के मामले में मुजम्मिल और अतीक उर रहमान को कर्नलगंज पुलिस ने गिरफ्तार करके कुछ समय पहले जेल भेजा था। पूछताछ में दोनों ने बताया था कि बंगलुरू में बैठे अपने आका अमीन को कानपुर, उन्नाव समेत आसपास के जिलों से कई महिलाएं विदेश में नौकरी का झांसा देकर भेजा था। उसने सभी को ओमान में सप्लाई कर दिया था। मामले की जांच कर रही क्राइमब्रांच महीनों से विदेश में महिलाओं की तस्करी करने करने वाले सरगना अमीन की तलाश में जुटी हुई थी। शुक्रवार को बंगलुरू से सटीक लोकेशन मिलने के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया। अब उसे ट्रांजिट रिमांड पर लेकर पुलिस कानपुर आ रही है। जांच में पता चला है कि कानपुर और उन्नाव की 20 से ज्यादा महिलाएं अभी भी विदेश में फंसी हुई हैं।
डीसीपी क्राइम ने बताया कि ओमान देश के दूतावास से संपर्क करके महिलाओं के बारे में जानकारी और उनकी वापसी के लिए प्रयास किया जा रहा है। अमीन से पूछताछ में अहम जानकारियां मिलेंगी। इसके बाद ओमान में फंसी अन्य महिलाओं को भी मुक्त कराया जाएगा।

विदेश में फंसी पत्नी की वापसी के नाम पर दोबारा ठगी
एक शिकायतकर्ता ने बताया कि इसी गिरोह ने उनकी पत्नी को भी झांसा देकर ओमान भेज दिया था। पत्नी ने फोन पर हॉस्पिटल की जगह सफाई कर्मचारी की नौकरी और यौन उत्पीड़न की दास्तां सुनाई तो पति भी दंग रह गए। उन्होंने अमीन से संपर्क किया तो अमीन ने पासपोर्ट वीजा के नाम पर पहले 22 हजार फिर एक लाख ठगे। इसके साथ ही धमकी दी थी कि रुपए नहीं दिए तो तुम्हारी पत्नी कभी वापस नहीं आ पाएगी।

25 से 30 हजार कमीशन के चक्कर में फंसा दी जिंदगी
मामले की गंभीरता को देखते हुए विदेश मंत्रालय भारत सरकार और भारतीय दूतावास ने ओमान में संपर्क करके पूरी जानकारी दी। जांच में सामने आया कि सिर्फ शिकायतकर्ता ही नहीं इसके अलावा कई महिलाओं को टूरिस्ट वीजा पर विदेश भेज चुका है। पूछताछ में भी दोनों ने बताया था कि 25 से 30 हजार रुपए उन्हें प्रति महिला पर कमीशन मिलता है। इसके चलते अब तक वह बीस महिलाओं को झांसे में लेकर ओमान भेज चुके हैं।

अमीन करता था पोस्पोर्ट वीजा का इंतजाम, तस्कर तलाशते थे क्लाइंट
क्राइमब्रांच की जांच में सामने आया कि अमीन के ऊपर विदेश भेजने वाले क्लाइंट का पास्पोर्ट, वीजा समेत अन्य कागजी कार्यवाही पूरी करना था। जबकि एजेंट कानपुर और उन्नाव ही नहीं यूपी समेत अन्य प्रदेशों से महिलाओं को नौकरी का झांसा देकर अमीन के पास भेजते थे।

खबरें और भी हैं...