पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कानपुर के डफरिन अस्पताल पहुंची महिला आयोग की टीम:खामियां मिलने पर अधिकारियों को दिए जरूरी दिशा-निर्देश

कानपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रशासन द्वारा डफरिन में 20 बेड का सिक एंड न्यू बार्न केयर यूनिट (एसएनसीयू) तैयार किया जा रहा है। - Dainik Bhaskar
प्रशासन द्वारा डफरिन में 20 बेड का सिक एंड न्यू बार्न केयर यूनिट (एसएनसीयू) तैयार किया जा रहा है।

शुक्रवार को राज्य महिला आयोग की सदस्य प्रमिला शुक्ला और पूनम कपूर ने महिला अस्पताल डफरिन का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने वहां साफ-सफाई की व्यवस्थाएं देखी। साथ ही ड्यूटी पर तैनात डॉक्टरों से वहां भर्ती मरीजों का हालचाल लिया।

नए बने एसएनसीयू का भी जायजा लिया
तीसरी लहर से पहले प्रशासन द्वारा डफरिन में 20 बेड का सिक एंड न्यू बार्न केयर यूनिट (एसएनसीयू) तैयार किया जा रहा है। अगर तीसरी लहर आती है तो छोटे बच्चों को यहीं पर भर्ती कर उनका इलाज किया जाएगा। राज्य महिला आयोग की सदस्यों ने उर्सला अस्पताल के बाल रोग विभागाध्यक्ष डॉ. जीएन द्विवेदी की देखरेख में बन रहे इस नए यूनिट को देखा और तैयारियों का जायजा लिया। बता दें कि यहां पांच साल से कम उम्र के छोटे बच्चों को भर्ती किया जाएगा। उसके लिए 20 अत्याधुनिक बेड, वेंटिलेटर, फोटोमेट्री मशीनें मंगाई गई है।

उर्सला अस्पताल के बाल रोग विभागाध्यक्ष डॉ. जीएन द्विवेदी की देखरेख में बन रहे इस नए यूनिट को देखा।
उर्सला अस्पताल के बाल रोग विभागाध्यक्ष डॉ. जीएन द्विवेदी की देखरेख में बन रहे इस नए यूनिट को देखा।

अधिकारियों को दिए जरूरी दिशा-निर्देश
इसके बाद उन्होंने कोरोना वैक्सीनेशन के काम को भी मौके पर जाकर देखा। निरीक्षण के दौरान कुछ खामियां पाए जाने पर चिकित्सा अधिकारियों को जरूरी दिशा-निर्देश दिए गए। आयोग की सदस्य पूनम कपूर ने बताया कि महिलाओं की सुरक्षा और सुविधा प्रदेश सरकार की प्राथमिकता है। कोरोना की तीसरी लहर आने की संभावना को देखते हुए हम सभी अस्पतालों का निरीक्षण कर रहे हैं। इस दौरान हम अस्पतालों में सफाई व्यवस्था एवं दवाओं की उपलब्धता का जायजा ले रहे हैं। यह अभियान आगे भी चलता रहेगा।

खबरें और भी हैं...