कानपुर में अब नहीं होगी ऑक्सीजन की कमी:डफरिन और हैलट अस्पताल में शुरू हुए दो प्लांट, ऑक्सीजन बेड की संख्या भी बढ़ी

कानपुर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मंडलायुक्त डा राजशेखर, विधान परिषद सदस्य सलिल विश्नोई और सांसद सत्यदेव पचौरी - Dainik Bhaskar
मंडलायुक्त डा राजशेखर, विधान परिषद सदस्य सलिल विश्नोई और सांसद सत्यदेव पचौरी

कोरोना महामारी की दूसरी लहर के हालात से सबक लेकर शहर के डफरिन और हैलट अस्पताल में पीएम केयर फंड से स्थापित ऑक्सीजन प्लांट का लोकार्पण किया गया। इस दौरान हैलट अस्पताल में प्रदेश की उच्च शिक्षा मंत्री नीलिमा कटियार एवं सांसद देवेंद्र सिंह भोले तो डफरिन अस्पताल में सांसद सत्यदेव पचौरी ने फीता काटकर प्लांट का लोकर्पण किया।

डफरिन में भी शुरू हुआ प्लांट...
शहर के डफरिन अस्पताल में भी पीएम केयर फंड से स्थापित ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट का लोकार्पण सांसद सत्यदेव पचौरी ने किया। उनके साथ विधान परिषद सदस्य सलिल विश्नोई ने बटन दबाकर प्लांट को स्टार्ट किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि, अब यहां के अस्पताल में मरीजों को ऑक्सीजन सिलिंडर से नहीं बल्कि डायरेक्ट पाइपलाइन से दी जाएगी। इस दौरान मंडलायुक्त डा राजशेखर ने ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट की खासियत बताते हुए कहा कि, अब ऑक्सीजन के लिए अस्पताल आत्मनिर्भर हो गए हैं। इस प्लांट की क्षमता एक हजार लीटर प्रति मिनट जनरेशन की है। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी डा. महेंद्र कुमार और एसीएमओ डा. अरविंद यादव मौजूद रहे।

हैलट में भी शुरू हुआ प्लांट...
जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के हैलट अस्पताल के इमरजेंसी ब्लाक में पीएम केयर फंड से डीआरडीओ की तकनीक, जो तेजस विमान में इस्तेमाल की गई है से निर्मित ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट की स्थापना की गई है। उच्च शिक्षा राज्य मंत्री नीलिमा कटियार ने पूजन किया। उसके बाद सांसद देवेंद्र सिंह भोले ने प्लांट का फीता काटा और उसके बाद अंदर जाकर बटन दबाकर प्लांट का लोकार्पण किया। इसके साथ ही ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट से ऑक्सीजन की आपूर्ति शुरू हो गई।

खबरें और भी हैं...