कानपुर की दो महिलाओं में मिला ओमिक्रॉन:जीनोम सिक्वेंसिंग के जरिए पता चला ओमिक्रॉन है; दोनों हैं होम आइसोलेशन में

कानपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कानपुर में मिले दो ओमिक्रॉन के पॉजिटिव केस। - Dainik Bhaskar
कानपुर में मिले दो ओमिक्रॉन के पॉजिटिव केस।

कानपुर में कोरोना के बढ़ते मरीजों की संख्या के बाद दो लोगों में ओमिक्रॉन पाए जाने की पुष्टि हुई है। दो लोगों में ओमिक्रॉन मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है। विभाग ने शहर के सभी अस्पतालों में युद्ध स्तर पर काम करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए है। मौजूदा वक्त में शहर में कुल 161 केस कोरोना के एक्टिव हैं। बुधवार को 66 नए मरीज मिलने की पुष्टि के बाद सीएमओ डॉ. नेपाल सिंह ने बताया, जिन दो मरीजों में ओमिक्रॉन की पुष्टि हुई है, वो दोनों महिलाएं है। दोनों ही मरीजों को होम आइसोलेट किया गया है। इनमें से एक लड़की विदेश से लौटी है।

शहर में ओमिक्रॉन हुई एंट्री
कानपुर में मिले दोनों ओमिक्रॉन वैरिएंट के पॉजिटिव दोनों मरीज महिलाएं हैं। डॉ. नेपाल सिंह ने बताया कि, इनमें से एक महिला स्वरूप नगर की रहने वाली युवती है जो अभी हाल ही में इंग्लैंड से लौटी है। दूसरी महिला रतनलाल नगर निवासी है। दोनों को आइसोलेशन में रखा गया। दोनों मरीजों के कांटेक्ट ट्रेसिंग की जा रही है। इन दोनों महिलाओं के परिवार के लोगों के भी सैंपल जांच के लिए भेजे है। इसके अलावा इन दू महिलाओं के संपर्क में आए 100–100 लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए है। दोनों ही मरीजों को दवाइयां और कोरोना की किट पहुंचा दी गई है। हमारी टीमें इन दोनों महिलाओं की मॉनिटरिंग कर रही हैं।

हैलट में शिफ्ट किया जा सकता है
दोनों ही महिलाओं में अभी तक कोई सीरियस लक्षण नहीं देखने को मिले है। डॉ नेपाल सिंह ने बताया, दोनों ही पॉजिटिव मरीजों में कोई घातक लक्षण देखने को नहीं मिले है। अगर मरीजों की तबीयत खराब होती है तो हैलट प्रशासन को पहले ही इन्फॉर्म कर दिया गया है। मरीजों को हैलट के ओमिक्रॉन के लिए बने स्पेशल वार्ड में शिफ्ट कर दिया जाएगा।

दूसरी लहर की तरह ऑक्सीजन की किल्लत नहीं होगी
डॉ नेपाल सिंह ने बताया, जो हालात हम लोगों ने दूसरी लहर में देखे थे वैसा नजारा तीसरी लहर में देखने को नहीं मिलेगा। हम लोगों ने ऑक्सीजन की व्यवस्था शहर में दुरुस्त कर ली है। शहर की सभी चार सीएचसी में ऑक्सीजन जनरेटर प्लांट पूरी क्षमता के साथ चालू हालत में हैं और लेवल वन प्लस अस्पतालों में लगभग हर दूसरे बेड पर ऑक्सीजन कंसंट्रेटर लगा दिए गए है। वैकल्पिक व्यवस्था के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर भी भरपूर मात्रा में है।

खबरें और भी हैं...