• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • On Protesting, The Ex Boyfriend And His Friends Beat Him Fiercely And Threw Him On The Highway From The Moving Car, The Music Was Full On Screaming

कानपुर में युवती से चलती कार में गैंगरेप की कोशिश:विरोध पर एक्स ब्वॉयफ्रेंड और उसके दोस्तों ने पहले जमकर पीटा, फिर हाईवे पर फेंका, FIR का आदेश

कानपुर4 महीने पहले
पीड़िता लखनऊ की रहने वाली है। उसकी उम्र 23 साल है। वह कानपुर के नवाबगंज में किराए के मकान में रहने के साथ ही प्राइवेट नौकरी करती है।

कानपुर के जाजमऊ में झगड़े के बाद एक युवक ने शुक्रवार रात को 11 बजे के करीब गर्लफ्रेंड को मिलने के लिए बुलाया। उसके बाद दोस्तों के साथ कार में उसके साथ गैंगरेप का प्रयास किया। विरोध करने पर उसे कार में जमकर पीटा और पकड़े जाने के डर से चलती कार से नीचे फेंक दिया।

राहगीरों की मदद से युवती जाजमऊ चौकी पहुंची तो रिपोर्ट दर्ज करने की बजाए उसे लौटा दिया गया। उच्च अफसरों तक मामला पहुंचने पर शनिवार दोपहर को डीसीपी FIR दर्ज करने का आदेश दिया।

चीखने पर गला दबाया

पीड़िता लखनऊ की रहने वाली है। उसकी उम्र 23 साल है। वह कानपुर के नवाबगंज में किराए के मकान में रहने के साथ ही प्राइवेट नौकरी करती है। युवती ने बताया कि कुछ महीने पहले एक दोस्त के जरिए उसकी मुलाकात चमनगंज में रहने वाले युवक से हुई थी। इसके बाद दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ गई थीं, लेकिन प्रेमी को किसी अन्य युवती से बात करते हुए पकड़ लेने पर दोनों के बीच विवाद हो गया था।

धोखे से मिलने के लिए बुलाया

आरोप है कि शुक्रवार देर रात को एक्स ब्वॉयफ्रेंड ने एक दोस्त से फोन करवाकर उसे मिलने के लिए बुलाया। इसके बाद युवक उसे लेने कार से नवाबगंज पहुंचे। कार में बैठने के कुछ देर बात ही युवकों ने कार को लॉक कर लिया। गाड़ी में उसके ब्वॉय-फ्रेंड के साथ ही दो दोस्त भी मौजूद थे।

कुछ ही देर में युवकों ने कार की लाइट बंद कर दी और तेज आवाज में गाने बजाने लगे और अश्लीलता करते हुए रेप करने के लिए टूट पड़े। चीखने और विरोध करने पर उसे पीटा और गला दबाया। इस दौरान युवती के कपड़े तक फट गए।

डीसीपी ने लिया मामले का संज्ञान

दुष्कर्म में असफल होने और फंसने के डर से उसे चलती कार से हाईवे पर जाजमऊ चेक-पोस्ट के पास धक्का देकर फेंक दिया। यहां के लोगों ने उसे जाजमऊ चौकी पहुंचाया। चौकी इंचार्ज सत्यपाल सिंह ने कहा कि युवक चमनगंज के रहने वाले हैं। चमनगंज थाने में रिपोर्ट दर्ज कराने की बात कहकर भगा दिया।

मामले की जानकारी होने के बाद डीसीपी ईस्ट प्रमोद कुमार ने आरोपितों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने के साथ ही अरेस्ट करने का आदेश दिया है।

चौकी इंचार्ज की लापरवाही से भाग निकले आरोपी

युवती ने बताया कि इलाकाई लोगों की मदद से वह चकेरी थाने की जाजमऊ चौकी पहुंची, लेकिन चौकी इंचार्ज सत्यपाल सिंह ने उन्हें रिपोर्ट दर्ज करने की बजाए भगा दिया। अगर चौकी इंचार्ज एक्टिव होकर आरोपितों को पकड़ने का प्रयास करते तो तीनों युवक रात में ही कार समेत पकड़ जाते।

डीसीपी ईस्ट ने भी चौकी इंचार्ज के लापरवाही पर जांच का आदेश दिया है। आरोप सही पाए जाने पर उनके खिलाफ भी विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

वारदात के बाद दहशत में युवती

वारदात के बाद से युवती को गहरा सदमा लगा है। वह अचानक से रोने लगती है और कहती है कि मुझे मर जाने दो। पुलिस ने युवती के परिजनों को पूरे मामले की जानकारी दी है। उसके परिजन भी कानपुर पहुंच गए हैं। युवती से पूछताछ करने के साथ ही मामले में सख्त कार्रवाई के लिए पुलिस प्रयास कर रही है। इसके साथ ही युवती की काउंसलिंग करके उसे सामान्य करने का भी प्रयास किया जा रहा है।

रईसजादों ने दिया वारदात को अंजाम

युवती ने बताया कि उसका एक्स ब्वॉयफ्रेंड और उसके दोस्त सभी संपन्न परिवार से हैं। इसके चलते उन्हें कानून का डर नहीं है। अगर उन्हें सख्त सजा नहीं मिली तो उसका जीना मुश्किल कर देंगे। राह चलते लड़कियों को छेड़ना और उन्हें फ्लर्ट करना उनका पेशा है। कई लड़कियों से संपर्क की बात सामने आने पर ही युवती ने युवक से बात करना बंद किया था।

खबरें और भी हैं...