नशीली और नकली दवा माफिया पर शिकंजा:मेरठ में होती थी नकली दवाओं के डिब्बों की छपाई, अलीगढ़ की फैक्ट्री में बनती थी नकली दवाएं और इंजेक्शन...क्राइम ब्रांच ने छापेमारी कर 1 को धरा

कानपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस गिरफ्त में अलीगढ़ से गिरफ्तार फैक्ट्री संचालक अशोक कुमार गुप्ता। - Dainik Bhaskar
पुलिस गिरफ्त में अलीगढ़ से गिरफ्तार फैक्ट्री संचालक अशोक कुमार गुप्ता।

कानपुर में हाल ही में पकड़ी गई नशीली दवाओं की खेप के बाद गिरोह के अन्य कनेक्शन खंगाल रही कानपुर क्राइम ब्रांच टीम को शुक्रवार को एक बड़ी सफलता मिली। क्राइम ब्रांच की टीम ने मेरठ और अलीगढ़ पुलिस के साथ मिलकर छापेमारी की। मेरठ में क्राइम ब्रांच की टीम ने दवाओं की स्ट्रिप और डिब्बे की प्रिंटिंग कारखाने और अलीगढ़ में नकली इंजेक्शन बनाने की फैक्ट्री पकड़ी है।

ऐसे मिली सफलता
दोनों ही जगहों से पुलिस छापेमारी की। क्राइम ब्रांच ने लखनऊ में नकली दवा के बड़े सप्लायर आशियाना के रहने वाले मनीष मिश्रा को पकड़ा था। दोनों ही आरोपियों ने पूछताछ में दो स्थानों के इनपुट दिए थे। जिसके बाद अलग-अलग टीमों को रवाना किया गया था। क्राइम ब्रांच की टीम ने पहले अलीगढ़ सासनी गेट थाना पुलिस के साथ मिलकर नकली इंजेक्शन बनाने की फैक्ट्री में छापेमारी की। पुलिस ने मौके से फैक्ट्री संचालक ब्रह्मनपुरी सासनी गेट अलीगढ़ निवासी अशोक कुमार गुप्ता को गिरफ्तार किया। जबकि गिरधारीलाल गली रामलीला मैदान के पास रहने वाला उसका पार्टनर कमलेंद्र सिंह पुंडीर उर्फ कुक्कू मौके से भागने में कामयाब रहा।

छापामार कार्रवाई में मिलीं ये दवाइयां
फैक्ट्री में छापेमारी के दौरान टीम को मौके से अल्ट्रासेट के 46 डिब्बे, टेक्सिम-ओ के 164, डेकाड्यूराबोलीन-30 समेत कई नशीली दवाएं और नकील इंजेक्शन बरामद हुए हैं आरोपियों से हुई पूछताछ में बताया कि वह मेरठ के मोनू कुमार से नकली लेबल, डिब्बों और स्ट्रिप की प्रिटिंग कराते थे। नकली माल तैयार करने के बाद लखनऊ के मनीष मिश्रा को बेचता था। वहीं शातिर ने इंजेक्शन के लिए खाली वायल गुड़गांव से लाने की बात कबूली।

प्रिंटिंग कारखाने में भी छापेमारी
मोनू कुमार की जानकारी होने के बाद क्राइम ब्रांच की दूसरी टीम ने मेरठ के ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र में छापेमारी करके मोनू कुमार का प्रिटिंग कारखाना पकड़ा है। मोनू विभिन्न कंपनियों के दवाओं के स्ट्रिप और पैकिंग बॉक्स की प्रिंटिंग का काम करता था। आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। मौके से पुलिस ने भारी मात्रा में कई नामी कंपनियों के नकली पैकिंग बॉक्स, प्रिंटिंग मशीन, स्कैनर, नकली प्रिंटिंग स्ट्रिप बरामद की हैं। एडीसीपी क्राइम दीपक भूकर ने बताया कि फरार चल रहे आरोपित कुक्कू के कनेक्शन मुजफ्फरनगर के नकली दवा कारोबारियों से सामने आये हैं। जल्द वहां भी छापेमारी की जाएगी।

खबरें और भी हैं...