मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की दो दिवसीय बैठक शुरू:ओवैसी, मदनी, बोर्ड के सदर समेत देश भर के उलेमा शहर पहुँचे, कोरोना बाद पहली बैठक

कानपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जाजमऊ के मदरसे में शुरू हुई पर्सनल ला बोर्ड की दो दिवसीय बैठक - Dainik Bhaskar
जाजमऊ के मदरसे में शुरू हुई पर्सनल ला बोर्ड की दो दिवसीय बैठक

20 व 21 नवम्बर को आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की बैठक शुरू हुई है। एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी, जमीयत उलमा के अरशद मदनी भी बैठक में पहुँचे है। त्रिवार्षिक मीटिंग शहर के जाजमऊ स्थित डीटीसी मदरसा में जो रही है। दो दिवसीय बैठक में कल नये बोर्ड के चयन भी होना प्रस्तावित है। जिसमे अध्यक्ष सहित सभी महत्वपूर्ण पदों के लिये चुनाव या आम सहमति से निर्णय हों सकता है।

120 से ज्यादा उलेमा और बोर्ड के लोग पहुँचे शहर,

शनिवार सुबह 10 बजे शुरू हुई बोर्ड की बैठक में सदर मौलाना राबे हसन नकवी एक्टिव जनरल सेक्रेटरी मौलाना सैफुल्लाह रहमानी प्रमुख तौर पर रहे। इसके अलावा करीबन 120 से ज्यादा उलेमा ए कराम और दानिशवर मीटिंग में शामिल हुए हैं। ओवैसी शनिवार सुबह ही लखनऊ से सीधे बोर्ड की बैठक में शामिल हुए। शाम को लखनऊ रुकेंगे और कल बाराबंकी की रैली को संबोधित करेंगे

कानपुर में तीसरी बैठक

कानपुर में इससे पहले 1985 में आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की बैठक हुई थी। यह तीसरा मौका है जबकि शहर में बोर्ड की बैठक हो रही है। कोरोना के बाद पहली बार बोर्ड की आमसभा में होगी मीटिंग है। इससे पहले सभी मीटिंग ऑनलाइन हुई है। कानपुर में मीटिंग कराये जाने का निर्णय 7 अक्टूबर को बोर्ड द्वारा लिया गया था।

अहम पदों के लिये हो सकते है चुनाव

पर्सनल लॉ बोर्ड के अहम पदों अध्यक्ष , महामंत्री , उपाध्यक्ष के लिए चुनाव भी हो सकते है। इसको लेकर बोर्ड के जिम्मेदारों ने अपना मन बनाया हुआ है। इसके लिए बोर्ड की बैठक में दूसरा दिन तय किया गया है। यह चुनाव आपसी सहमति से होने की ज्यादा उम्मीद लगाई जा रही है। यदि आपसी सहमति नही बनी तब वोटिंग के जरिये चुनाव कराए जा सकते है। नये बोर्ड का गठन अगले तीन वर्षों के लिये किया जायेगा।

खबरें और भी हैं...