पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हिस्ट्रीशीटर के भाई को रिमांड पर लेगी पुलिस:विकास दुबे के भाई दीपक को कानपुर लाने की तैयारी, खुलेंगे बिकरू कांड से जुड़े कई राज़!

कानपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गैंगस्टर विकास दुबे के भाई  दीपक दुबे को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। न्यायिक हिरासत खत्म होने के बाद चौबेपुर पुलिस रिमांड पर लेगी। - Dainik Bhaskar
गैंगस्टर विकास दुबे के भाई दीपक दुबे को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। न्यायिक हिरासत खत्म होने के बाद चौबेपुर पुलिस रिमांड पर लेगी।
  • दीपक दुबे को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है
  • न्यायिक हिरासत खत्म होने के बाद चौबेपुर पुलिस रिमांड पर लेगी

उत्तर प्रदेश के कुख्यात अपराधी विकास दुबे के भाई दीपक दुबे को कानपुर की चौबेपुर पुलिस रिमांड में लेने की तैयारी कर रही है। दीपक से पूछताछ में विकास दुबे से जुडे़ कई राज खुलने वाले है। विकास दुबे अपने भाई दीपक से हर एक बात को साझा करता था। बिकरू हत्याकांड के बाद से ही दीपक दुबे फरार चल था। दीपक ने बीते 23 दिसंबर को लखनऊ कोर्ट में सरेंडर किया था। बताया जा रहा है कि विकास दुबे का भाई दीपक भी उसकी ब्लैक मनी को सफेद करने का काम करता था।

हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे ने बीते 2 जुलाई की रात अपने गुर्गो के साथ मिलकर 8 पुलिस कर्मियों की हत्या कर दी थी। बिकरू कांड के वक्त विकास का भाई दीपक लखनऊ में था। लेकिन इस हत्याकांड बाद से ही दीपक दुबे फरार था। यूपी एसटीएफ और पुलिस उसकी तलाश में लगी थी। लखनऊ पुलिस ने बीते 18 दिसंबर को उसके लखनऊ स्थित घर पर कुर्की की कार्रवाई कर करोड़ की संपत्ति जब्त की थी।

14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है दीपक
दीपक दुबे को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। न्यायिक हिरासत खत्म होने के बाद चौबेपुर पुलिस रिमांड पर लेगी। विभाग के आलाधिकारी मिलकर पूछताछ के लिए सवालों की लंबी लिस्ट तैयार कर रही है। सूत्रों के मुताबिक पुलिस का दावा है कि दीपक से पूछताछ में कई अहम राज खुलेंगें। दीपक सबसे बड़ा राजदार साबित होगा। विकास दुबे अपने भाई से सभी बातों को साझा करता था।

विकास की ब्लैक मनी को वाइट करता था
हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की काली कमाई का पूरा ब्यौरा दीपक के पास रहता था। विकास का भाई उसकी ब्लैक मनी को वाइट करने का काम करता था। रियल एस्टेट, जमीनों की खरीद फरोख्त समेत अन्य कामों में इन पैसों का इस्तेमाल होता था। दीपक यह भी जानता था कि विकास की काली कमाई का स्रोत क्या है?

अब तक 36 आरोपी जेल में

कुख्यात अपराधी विकास दुबे ने बीते 2 जुलाई की रात स्प्रिंगफील्ड रायफल से पुलिस कर्मियों पर गोलियां दागी थी। फरेंसिक टीम को घटना वाली जगह से अमेरिकन विंचेस्टर कारतूस मिले थे। पुलिस बिकरू कांड के 36 आरोपियों को जेल भेज चुकी है, लेकिन स्प्रिंगफील्ड रायफल को बरामद नहीं सकी है। दीपक की स्प्रिंगफील्ड रायफल विकास दुबे अपने पास रखता था। दीपक को रिमांड पर लेकर पुलिस रायफल बरामद करने का प्रयास करेगी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- वर्तमान परिस्थितियों को समझते हुए भविष्य संबंधी योजनाओं पर कुछ विचार विमर्श करेंगे। तथा परिवार में चल रही अव्यवस्था को भी दूर करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण नियम बनाएंगे और आप काफी हद तक इन कार्य...

और पढ़ें