• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • IT Raids In UP: Income Tax Raids At Pushpraj Jain Pumpi's Premises, Raids Continue For 24 Hours In Kanpur, 22 Rooms Found Inside Malik Mian's House In Kannauj

इत्र कारोबारी मलिक मियां का घर है भूलभुलैया:एक कमरे के अंदर मिले 22 कमरे, मो. याकूब के घर नोटों की गिनती पूरी; सोना भी मिला

कानपुर/कन्नौज8 महीने पहले
कन्नौज में मलिक मियां के यहां इनकम टैक्स ने नोटों की गिनती करने के लिए मशीन मंगवाई।

कन्नौज में इत्र के बड़े कारोबारी पुष्पराज जैन पम्पी और मलिक मियां के यहां इनकम टैक्स का छापा पड़ा है। 28 घंटे से छापेमारी जारी है। शनिवार दोपहर 12 बजे मलिक मियां के घर इनकम टैक्स और बैंक की टीम नोट गिनने की मशीन लेकर पहुंची। आशंका है कि भारी मात्रा में रुपए भी बरामद हुए हैं।

उधर, कन्नौज में मोहम्मद याकूब के मंडई आवास में आईटी की छापेमारी के दौरान मिले रुपए की गिनती खत्म हो गई है। बैंककर्मी नोट गिनने की मशीन लेकर बाहर निकल गए हैं। बैंककर्मियों की मानें तो करीब चार से छह करोड़ की नकदी बरामद हुई है। साथ में घर से सोना भी बरामद किया गया है। इनकम टैक्स टीम की जांच अभी भी जारी है।

पम्पी के शेयर और संपत्तियों की जांच जारी

इत्र कारोबारी और सपा से एमएलसी पम्पी जैन के ठिकानों पर इनकम टैक्स की छापेमारी जारी है। पम्पी के शेयर और संपत्तियों के कागजातों की जांच चल रही है। कानपुर में एक्सप्रेस रोड स्थित महावीर जैन के कार्यालय पर 24 घंटे से छापा जारी है। रातभर इनकम टैक्स की टीम दस्तावेजों की जांच में जुटी रही। इसी के साथ कन्नौज में इत्र कारोबारी मलिक मियां के यहां भी कार्रवाई देर रात तक खत्म नही हो पाई थी। मियां के यहां कमरों के अंदर कमरे मिले। जहां कई कागजात इनकम टीम ने जब्त कर लिए हैं।

कुछ खास हासिल नहीं कर पाई टीम

पम्पी जैन और उनके करीबियों के यहां पहले दिन की कार्रवाई में इनकम टैक्स को कुछ खास हासिल नहीं हो पाया है। छापेमारी में इनकम टैक्स की टीम को उम्मीद के मुताबिक बहुत ज्यादा नकदी या टैक्स चोरी का मामला नहीं मिला है। अब तक की छानबीन में इनकम टैक्स की टीम पम्पी जैन के घर से मिले कागजातों के आधार पर शेयर और कुछ इनवाइस बिल में गड़बड़ियां होने की आशंका भर जाहिर कर पा रही है। देर रात तक कार्रवाई जारी रही।

कानपुर में एक्सप्रेस रोड स्थित महावीर केमिकल ऑफिस में अभी भी इनकम टैक्स टीम मौजूद है।
कानपुर में एक्सप्रेस रोड स्थित महावीर केमिकल ऑफिस में अभी भी इनकम टैक्स टीम मौजूद है।

मलिक मियां के यहां मिले कमरे के अंदर कमरे

कन्नौज के बड़े इत्र कारोबारी मलिक मियां के यहां छापेमारी करने गई इनकम टैक्स टीम को एक कमरे के अंदर 22 कमरे मिले। यह देखकर टीम चौक गई। जब सभी कमरे खुलवा लिए गए, तो उसमें काफी कुछ दस्तावेज हाथ लगे, जिनकी पड़ताल जारी है। मलिक मियां पांच भाई हैं, उनके दो भाई मुंबई और दो कन्नौज में रहते हैं, जबकि एक भाई दुबई में रहकर कंपनी का काम संभालते हैं। बताया जा रहा है कि मलिक मियां का काम कन्नौज में सबसे बड़ा और पुराना है।

महावीर केमिकल्स का मैनेजर भाग गया

कानपुर के महावीर केमिकल्स का मैनेजर छापेमारी के बाद मौका पाते ही फरार हो गया था। इसके बाद टीम को अपनी कार्रवाई बीच में काफी समय के लिए रोकनी पड़ी। मैनेजर को वापस बुलाने के लिए आईटी टीम ने क्षेत्रीय पुलिस की मदद ली। पुलिस के समझाने के बाद मैनेजर वापस आया। तब जाकर टीम दोबारा अपनी कार्रवाई फिर शुरू कर पाई। अभी भी इनकम टैक्स की टीम एक्सप्रेस रोड स्थित महावीर केमिकल ऑफिस में मौजूद है। महावीर केमिकल के मालिक भी पुष्पराज जैन उर्फ पम्पी के नजदीकी कारोबारी बताए जाते हैं।

कन्नौज में 27 घंटे से छापेमारी जारी

कन्नौज में छापेमारी के दौरान घर के बाहर मौजूद फोर्स।
कन्नौज में छापेमारी के दौरान घर के बाहर मौजूद फोर्स।

कन्नौज में मलिक मियां के घर शुक्रवार सुबह से जारी छापेमारी 27 घंटे से चल रही है। अभी तक कुछ विशेष हाथ नही लगा है। पुलिस कागजातों की जांच कर रही है। इत्र के मुख्य कारोबार में सबसे बड़ा नाम शहर के लोगों की जुबान पर मलिक मियां का ही है। लोगों का कहना है कि पुस्तैनी इत्र और कंपांउड के कारोबार में इस परिवार ने अच्छी खासी जगह बनाई है। कारोबार की शुरुआत 1886 में मोहम्मद अयूब और मोहम्मद याकूब के नाम से हुई।

शुरुआत में इस फर्म ने फारस देश के कारोबारियों के साथ शमामा बनाने का व्यापार शुरू किया था। विरासत में मिले इस इत्र कारोबार को मलिक मियां ने और आगे बढ़ाते हुए अपने खुद के नाम से मलिम शमामा बनाकर देश–विदेशों तक पहुंचाया। अपने इस ब्रांड की अरब देशों में लोकप्रियता बढ़ने के बाद उन्होंने अपने भाई मोहसिन के नाम से भी मार्केट में मोहसिन शमामा लांच किया जो आज भी मशहूर है। मौजूदा समय में मलिक शमामा की कीमत डेढ़ लाख रुपए किलो है, जबकि मोहसिन शमामा की कीमत करीब 80 हजार रुपए किलो है।