क्रिकेट में छाया भगवा:कानपुर पहुंचे कीवी खिलाड़ियों का स्वागत भगवा गमछे से हुआ; राम-राम, सीता राम भजन भी बजा

कानपुर2 महीने पहले

उत्तर प्रदेश में भगवा का जादू अब इंटरनेशनल क्रिकेट मैचों में भी दिखने लगा है। इसका नजारा कानपुर के लैंडमार्क टॉवर में न्यूजीलैंड के खिलाड़ियों का स्वागत करते समय देखने को मिला।

एयरपोर्ट से जैसे ही कीवी के खिलाड़ी होटल पहुंचे तो बैकग्राउंड में मंदिर के घंटे बज रहे थे और साथ ही 'राम राम ओ सीता राम' का भजन चल रहा है। पिछली बार की तरह इस बार भी होटल प्रबंधन ने भगवा गमछा देकर खिलाड़ियों का स्वागत किया। ऐसा नजारा शहर में दूसरी बार देखने को मिला है। टेस्ट सीरीज का पहला मैच खेलने के लिए टीम इंडिया और न्यूजीलैंड कानपुर पहुंची है। इसी दौरान भगवा गमछा देकर और आरती करके खिलाड़ियों का स्वागत किया गया।

सेफ पैसेज को दिया गया मंदिर का लुक...
कोलकाता से विशेष विमान से चकेरी एयरपोर्ट पहुंचे खिलाड़ियों को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच बस से होटल के लिए रवाना किया गया। होटल में बनाए गए सेफ पैसेज से खिलाडियों ने होटल में प्रवेश किया। होटल के गलियारे को मंदिर का लुक देने का प्रयास किया था। पूरे पैसेज को मंदिर के घंटों और भगवा रंग के फूलों से सजाया गया था। इस दौरान भारतीय परम्परा के अनुसार खिलाडियों की आरती उतार कर उनका स्वागत किया गया साथ ही बायो बबल के घेरे का भी धान रखा गया।

पिछली बार भी इसी तरह किया गया था स्वागत...
होटल के MD विकास मेहरोत्रा ने बताया कि, यह सब हमने प्रदेश के CM योगी आदित्‍यनाथ से सीखा है। इसी तरह से खिलाड़ियों का स्‍वागत करने से भारतीय संस्कृति अन्य देश के लोगों में फैलती है। इस बार खिलाड़ियों को सच्‍ची भारतीय परंपरा का एहसास दिलाना था, लेकिन कोरोना के चलते यह मुमकिन नहीं हो पाया। पिछली बार हम लोगों ने सभी खिलाडियों को कानपुर के बिठूर तीर्थ स्‍थान के इतिहास की किताब भी भेंट की थी।

पिछली बार हुई थी राजनीति...
पिछली बार भी न्यूजीलैंड के साथ ही ग्रीन पार्क में इंटरनेशनल मैच खेला गया था तब भी समाजवादी पार्टी ने भगवा गमछा पहनाने पर नाराजगी जताई थी। अब देखना यह होगा कि इस बार दिए गए भगवा गमछों का प्रदेश की सियासत पर क्या असर होता है।

खबरें और भी हैं...