तीसरी लहर के लिए डीएम ने प्राइवेट फैसिलिटी का किया:कोरोना के बढ़ते मामले के बाद रामा को कोरोना डेडिकेटेड अस्पताल घोषित किया

कानपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रामा मेडिकल फैसिलिटी के प्रशासन को निर्देश देते डीएम - Dainik Bhaskar
रामा मेडिकल फैसिलिटी के प्रशासन को निर्देश देते डीएम

शहर में बढ़ते कोरोना के मरीजों को सिर्फ सरकारी अस्पताल ही नही कोरोना के लिए प्राइवेट फैसिलिटी में भी एडमिट किया जायेगा। इसी क्रम में गुरुवार को डीएम विशाख जी ने रामा मेडिकल कॉलेज मंधना में तैयार हुए कोविड फैसिलिटी का निरीक्षण किया। इसके लिए शहर के पूर्व में रहे कोविड अस्पतालों को दोबारा तैयार रहने के लिए भी कहा गया है। अपने निरीक्षण के दौरान डीएम ने कोरोना की तैयारियां परखी। उन्होंने कहा कोविड डेडिकेटेड हॉस्पिटल बनाने के हेतु में अगर कोई दिक्कत आ रही है तो प्रशासन से तुरंत संपर्क करने के आदेश भी दिए।

मेडिकल इक्विपमेंट का ट्रायल रन करने के निर्देश दिए...

डीएम विशाख जी ने निर्देशित करते हुए कहा कि सभी मेडिकल इक्यूपमेंट का ट्रायल रन कर लिया जाए यदि कोई कमी हो तो तत्काल उसकी मरम्मत कर ली जाए। उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि समस्त मेडिकल स्टॉप, डॉक्टर टीम को रेडी रखा जाए आवश्यकता पड़ने पर तत्काल कोविड फैसिलिटी प्रारम्भ की जा सके। उन्होने समस्त वार्डों , आईसीयू , एंट्री , एग्जिट प्वाइंट पर हाई डीफनेशन सीसीटीवी कैमरे निर्देश दिए। जिसकी लगातार मॉनिटरिंग की जा सके इसके लिए कंट्रोल रूम तैयार करने के लिए भी अस्पताल प्रशासन को कहा गया।

400 वेड किये गये सुरक्षित...

आपको बता दें रामा हॉस्पिटल में 400 बेड कोरोना मरीजों के लिए रखे जाएंगे। यहां 1 हजार लीटर का ऑक्सीजन प्लांट भी दूसरी लहर के बाद तैयार किया गया है। जिसमें 80 वेंटीलेटर है और 125 ऑक्सीजन कनेक्टेड बीएड है। रामा हॉस्पिटल को पहली और दूसरी लहर में भी कोविड डेडिकेटेड फैसिलिटी बनाया गया था। जिन्हे हैलट या अन्य अस्पतालों में जगह नहीं मिल रही थी उन्हें इन्ही प्राइवेट फैसिलिटी में एडमिट किया जा रहा था। 100 बायो पंप मशीन और रोजाना 500 से ज्यादा कोरोना जांच करने वाली लैब है।

खबरें और भी हैं...