पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बसपा का ब्राह्मण कार्ड:सतीश चन्द्र मिश्र का दावा सुप्रीम कोर्ट में लड़ेंगे खुशी दुबे का केस, मां बोली हमसे नहीं हुई बात

कानपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
खुशी दुबे - Dainik Bhaskar
खुशी दुबे

विधानसभा चुनाव नजदीक आते ही राजनीतिक पार्टी नफे नुकसान की गणित में लग गई हैं। इसी क्रम में बसपा के कद्दावर नेता सतीश चंद्र मिश्र ने पार्टी के ब्राह्मण कार्ड को आगे बढ़ाते हुए, खुशी के अधिवक्ता शिवाकांत से संपर्क किया। केस के बारे में जानकारी ली और हाई कोर्ट का जजमेंट भी मंगाया। सभी पहलुओं पर काफी बिंदुवार देर तक बात की। इस पूरे मसले में ख़ुशी की माँ गायत्री देवी कहना है, कि उनकी सतीश चंद्र मिश्र से कोई बात नही हुई है।

हाई कोर्ट में वेल ख़ारिज होने पर सामने आई बसपा

पिछले एक साल से बिकरु कांड में मौन साधने वाली बसपा अब ब्राह्मण कार्ड खेलती नज़र आ रही है। इसी क्रम में पार्टी में ब्राह्मणों की बागडोर संभालने वाले सतीश चंद्र मिश्र ने खुशी के कानपुर में वकील शिवकांत दीक्षित से कई पहलुयों पर बात की। हाई कोर्ट में जजमेंट की कॉपी भी उनको भेज दी गयी है। इस संदर्भ में शिवकांत का कहना है कि कल सतीश चंद्र मिश्र का फोन आया था। वह सुप्रीमकोर्ट में केस लड़ना चाहते है। बसपा नेता एवं पूर्व मंत्री अनन्त मिश्र ने कहा कि खुशी के साथ अन्याय हुआ है। उसको न्याय दिलाने का कार्य किया जायेगा।

राजनीति नही खुशी को न्याय चाहिये

इस पूरे मसले पर खुशी के अधिवक्ता शिवकांत दीक्षित कहना है कि वह से खुशी को न्याय दिलाने में सहयोग करने वाले का स्वागत करते है। लेकिन इस मसले पर किसी भी तरह की राजनीति नही चाहते है। उन्होने बताया कि सुप्रीम कोर्ट के सीनियर वकील सतीशचन्द्र मिश्र पर इस संदर्भ में लम्बी बात है। इस पूरे मसले पर खुशी की माँ गायत्री देवी ने बताया कि उनकी किसी से कोई बात नहीं हुई है। उनको तो बस अपनी बेटी के लिये न्याय चाहिये। वह रोज कमाने खाने वालों है। उनके पास इतने पैसे नही है कि वह सुप्रीम कोर्ट जा सके।

खबरें और भी हैं...