कानपुर में सपा का अनोखा प्रदर्शन:पेट्रोल-डीजल के दामों को लेकर सपा कार्यकर्ताओं ने गले में टायर और फांसी का फंदा पहनकर किया प्रदर्शन

कानपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सपा ने कहा- प्रधानमंत्री ने चुनावी वादे में पेट्रोल व डीज़ल की कीमतें व महंगाई कम करने का दावा किया था पर अब इस मुद्दे पर वो चुप हैं। - Dainik Bhaskar
सपा ने कहा- प्रधानमंत्री ने चुनावी वादे में पेट्रोल व डीज़ल की कीमतें व महंगाई कम करने का दावा किया था पर अब इस मुद्दे पर वो चुप हैं।

लगातार हो रही मूल्यवृद्धि को लेकर सपा ने कानपुर में जोरदार प्रदर्शन किया। जाजमऊ में जुटे सपा कार्यकर्ताओं ने डीजल मूल्यवृद्धि व कमर तोड़ महंगाई के विरोध में फांसी का फंदा व कारों के टायर गले में डालकर दमघोंटू प्रदर्शन किया।

पीएम अब चुप क्यों?

समाजवादी व्यापार सभा के प्रदेश महासचिव अभिमन्यु गुप्ता समेत अन्य व्यापारियों ने फंदे डालकर महंगाई के विरुद्ध नारेबाजी करते हुए महंगाई और मूल्यवृद्धि के इस रूप को भयावह बताते हुए भाजपा सरकार को फेल बताया। कहा की प्रधानमंत्री ने चुनावी वादे में पेट्रोल व डीज़ल की कीमतें व महंगाई कम करने का दावा किया था पर अब इस मुद्दे पर वो चुप हैं।

लोगों का दम घुट रहा

प्रदर्शन में सपा नेताओं ने कहा कि पेट्रोल डीजल की आसमान छूती कीमतों व महंगाई की वजह से लोगों का दम घुट रहा है। गाड़ियां चलाना महंगा हो गया है, इसलिए गाड़ी के टायर भी डाले ताकि बताया जा सके की अब गाड़ी और टायर किसी काम के नहीं। सपा नेता ने कहा कि प्रधानमंत्री 2013 से चुनावी जनसभाओं में लगातार जनता को गुमराह कर रहे हैं।

सभी हैं परेशान

मूल्यवृद्धि से छोटा व्यापारी, किसान, मज़दूर, महिलाएं सब भयंकर पीड़ित हैं। सपा नेता मो. शाहरुख खलीफा ने कहा की पिछले वर्ष जून में पेट्रोल और डीजल की कीमत 69 व 71 रुपए थी और आज दोनों की कीमत 100 रुपए तक पहुंच गयी है। ये कौन सा विकास है। कानपुर ग्रामीण अध्यक्ष विनय कुमार, मो. इमामुद्दीन, संजय निषाद, मो.नादिर समेत अन्य रहे।

खबरें और भी हैं...