अब रोबोट शरीर के अंदर जाकर करेंगे इलाज:ऐसी तकनीक का होगा पहली बार इस्तेमाल, IIT कानपुर डेवलप कर रहा है तकनीक, रिसर्च पूरा होने के करीब

कानपुर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आईआईटी कानपुर फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
आईआईटी कानपुर फाइल फोटो

बीमारियों का पता लगाने के साथ ही उसका इलाज भी अब रोबोट करेंगे, वह भी शरीर के अंदर जाकर। आईआईटी कानपुर के वैज्ञानिक इस तरह के रोबोट तैयार करने के लिए शोध कर रहे हैं। बताया जाता है कि ये रोबोट शरीर के अंदर कोशिका, धमनी व नसों में जाकर न सिर्फ बीमारी का पता लगा सकेंगे, बल्कि सही स्थान पर दवा भी पहुंचाएंगे। इससे मरीज को जल्द फायदा होने के साथ-साथ उन्हें सर्जरी से बचाया जा सकेगा।

माइक्रो रोबोट पर कर रहे है काम

आईआईटी कानपुर के मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग के वरिष्ठ वैज्ञानिक प्रो. बिशाख भट्टाचार्य की देखरेख में वैज्ञानिकों की टीम माइक्रो रोबोट पर कार्य कर रही है। जर्मनी के इंस्टीट्यूट फॉर इंटेलिजेंस सिस्टम के विशेषज्ञों के साथ मिलकर वैज्ञानिकों की टीम शोध करने के साथ रोबोट विकसित करने में जुटी है। इस माइक्रो रोबोट को अगले साल तक विकसित किए जाने की उम्मीद है।

इसके बनने के बाद परीक्षण शुरू होगा। इस माइक्रो रोबोट को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग और मैथमेटिकल मॉडलिंग के माध्यम से ट्रेंड किया जाएगा। इससे यह कोशिका, धमनी या नसों में जाकर ऑक्सीजन का स्तर, रक्त की गुणवत्ता, रोग प्रतिरोधक क्षमता, प्रोटीन व अन्य कारकों की रिपोर्ट कंप्यूटर पर भेज सकेंगे। इस शोध में कई चिकित्सकों की भी मदद ली जा रही है।

खबरें और भी हैं...