कानपुर में युवक को जिंदा जलाया:घर से RO ठीक करने निकला था, एक साल पहले युवती को जलाने का था आरोपी

कानपुर7 दिन पहले

कानपुर में रविवार को एक युवक को जिंदा जला दिया गया। आरोपी शव पर मृतक का बैग भी डाल गए। शव 90% जला हुआ है। युवक घर से RO यानी वाटर प्यूरीफायर ठीक करने के लिए शनिवार शाम को निकला था। इसके बाद से लापता था।

परिजनों ने पुलिस में गुमशुदगी की रिपोर्ट भी दर्ज करवाई थी। वारदात की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंची। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। घटना सचेंडी इलाके की है। मृतक पर एक लड़की को जलाकर मारने का आरोप था।

घटनास्थल से थोड़ी दूर मृतक की बाइक मिली है। साथ ही शव पर उसका बैग भी मिला है।
घटनास्थल से थोड़ी दूर मृतक की बाइक मिली है। साथ ही शव पर उसका बैग भी मिला है।

परिजन बोले- लड़की के पिता और भाई ने अगवा कर मार दिया
मृतक के परिजनों का आरोप है कि उनका बेटा चकेरी में एक युवती को जलाकर मारने के मामले का आरोपी था। इसके चलते लड़की के पिता और भाइयों ने उनके बेटे को अगवा कर मार दिया। इसके बाद बदला लेने के लिए जला दिया।

सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंची। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंची। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

शनिवार शाम से था लापता
ACP विकास पांडेय ने कहा, "सचेंडी के भैलामऊ MPCC प्लांट के सामने झाड़ियों में एक युवक का शव पड़ा मिला है। शव के पास ही बाइक खड़ी थी। शव के ऊपर युवक का बैग भी रखा था। जांच करने पर पता चला कि नौबस्ता से लापता चकेरी शिवकटरा हरिजन बस्ती निवासी अमित कुमार का शव है। परिजनों ने बाइक और बैग से अमित की पुष्टि की है।"

ACP विकास पांडेय ने बताया, "अमित कुमार वाटर प्यूरीफायर का काम करता था। शनिवार शाम को नौबस्ता में RO की कंप्लेन ठीक करने की बात कहकर घर से निकला था। इसके बाद रात तक घर नहीं लौटा। फोन भी रिसीव नहीं हो रहा था। परिजनों ने उसकी तलाश की, लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला। इसके बाद मां ने नौबस्ता थाने में बेटे की गुमशुदगी कराई थी।"

युवक का शव झाड़ियों में मिला है। मृतक घर से RO ठीक करने के लिए निकला था।
युवक का शव झाड़ियों में मिला है। मृतक घर से RO ठीक करने के लिए निकला था।

ज्योति मिश्रा हत्याकांड में था आरोपी
चकेरी के गिरिजा नगर निवासी संतोष कुमार मिश्रा की 23 वर्षीय बेटी ज्योति मिश्रा का 26 अक्टूबर 2021 को चकेरी में रेलवे लाइन किनारे जला हुआ शव मिला था। परिजनों ने अमित समेत अन्य युवकों पर जलाकर मारने का आरोप लगाते हुए चकेरी थाने में FIR कराई थी।

कोर्ट की तारीख के बाद हुआ था लापता
मृतक के भाई अंकित ने बताया, "कल ज्योति हत्याकांड के मामले में कोर्ट में तारीख थी। भाई कोर्ट में तारीख पर गया था, लेकिन दूसरे पक्ष से कोई भी कोर्ट में उपस्थित नहीं हुआ था। इसके बाद भाई RO की कंप्लेन ठीक करने की बात कहकर शाम को नौबस्ता के लिए निकला था।

अंकित ने कहा, " ज्योति के परिजनों ने साजिश करके उसे बुलाया और अगवा करने के बाद जलाकर मार डाला।"