काबुल से बेटी की गुहार... मुझे बचा लो मां:मुंबई में नौकरी के दौरान अफगानी ने प्रेम जाल में फंसाया, फिर काबुल ले जाकर बेच दिया

कानपुर10 महीने पहले

अफगानिस्तान में फंसी कानपुर की एक लड़की ने अपनी मां को फोन करके भारत लौटने के लिए मदद की गुहार लगाई है। लड़की ने मां को फोन पर बताया कि उसे काबुल से 80 किमी दूर झुरमुट नाम की जगह पर रखा गया है। वहां उसे बंधक बनाकर मारपीट की जा रही है।

कानपुर में रहने वाली लड़की की मां ने बताया कि उनकी बेटी मुंबई में नौकरी करने गई थी। वहां एक अफगानी लड़का उसे प्रेम जाल में फंसाकर अपने साथ अफगानिस्तान ले गया था। वहां हालात खराब होते ही वह उसे बेचकर फरार हो गया।

विदेश मंत्रालय ने काबुल रेस्क्यू ऑफिस को भेजी डीटेल
लड़की की मां ने मंगलवार को कानपुर साउथ के डीसीपी से मिलकर बेटी को भारत लाने की मांग की है। वहीं, विदेश मंत्रालय को भी बेटी के हालात की सूचना दी है। विदेश मंत्रालय ने काबुल के रेस्क्यू ऑफिस को वॉट्सऐप पर डीटेल भेज दी है।

दर्द की दासतां इतनी लंबी कि पन्ने छोटे पड़ जाएं
लड़की की मां समीरुल निशा से डीसीपी साउथ ने कहा कि एक प्रार्थना-पत्र लिखकर दे दीजिए, तो उन्होंने कहा कि बेटी के दर्द और उसपर हुए जुल्मों की दास्तां इतनी लंबी है कि पन्ने भी कम पड़ जाएंगे। फिर भी मैं आपको पूरी बात बताने के साथ ही पन्ने में प्रमुख बातों को लिखकर दे रही हूं। एक महिला अफसर होने के नाते आप महिला का दर्द समझ सकती हैं। मेरी बेटी को बचा लीजिए।

2013 में नौकरी करने मुंबई गई थी बेटी
कानपुर के बाबूपुरवा थाना क्षेत्र के बगाही की रहने वाली समीरुल निशा की बेटी हिना खान 2013 को नौकरी करने मुंबई गई थी। वहीं एक अफगानिस्तानी लड़के ने प्रेम प्रसंग में फंसाकर उससे शादी कर ली। शादी के बाद लड़का उसे लेकर अफगानिस्तान चला गया था। अब बेटी को बेचने और बंधक बनाकर मारपीट करने की खबर मिली है।

खबरें और भी हैं...