• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • The Miscreants Carried Out The Incident In Broad Daylight, The Possibility Of Murder In Robbery And Rivalry, The Miscreants Ran Away After Burning Evidence In The Toilet

कानपुर में हाथ-पैर बांधकर ब्यूटी पार्लर संचालिका की हत्या:पूरे शरीर पर गंभीर चोट के निशान मिले, वारदात के वक्त घर में अकेली थी

कानपुर10 महीने पहले
मृतका लक्ष्मी देवी और (दाएं) उसकी रोते हुए बेटी। जब वारदात हुई तो बेटी स्कूल में थी।

कानपुर में गुरुवार को दिनदहाड़े ब्यूटी पार्लर संचालिका की हाथ-पैर बांधकर हत्या कर दी गई। घटना के समय पति काम पर गया था और बेटी स्कूल में थी। भाई जब घर पहुंचा, तो पूरे घर में धुआं भरा था। अंदर वाले कमरे में बहन के हाथ-पैर बांधकर शव रखा गया था। सिर के साथ ही पूरे शरीर पर गंभीर चोट के निशान थे। हत्यारे बाथरूम में मकान की रजिस्ट्री समेत अन्य सभी दस्तावेज जला दिए। जो राख में तब्दील हो चुके थे। इसके चलते किसी नजदीकी पर हत्या का शक है। सूचना पर नौबस्ता थाना प्रभारी, गोविंदनगर ACP और फॉरेंसिक टीम मौके पर पहुंची।

मामला नौबस्ता के अर्रा क्षेत्र का है। यहां एक जूता कंपनी में काम करने वाले अनोद कुमार मौर्या रहते हैं। उन्होंने बताया कि पत्नी लक्ष्मी देवी (45) घर पर ही कॉस्मेटिक की दुकान और ब्यूटी पार्लर चलाती थी। गुरुवार सुबह 8.30 बजे वह रायपुरवा स्थित कंपनी में नौकरी के लिए गए थे। बेटी आकांक्षा भी स्कूल गई थी।

भाई के घर आने पर घटना का पता चला

भाई रमाशंकर और पति अनोद कुमार वारदात के बाद रो-रो कर हुए बेहाल।
भाई रमाशंकर और पति अनोद कुमार वारदात के बाद रो-रो कर हुए बेहाल।

सीने में दर्द होने के चलते अनोद का साला रमाशंकर उन्हें हॉस्पिटल ले जाने के लिए दोपहर में 12 बजे घर पहुंचा। तब पूरा घर धुएं से भरा था। बहन का शव पीछे वाले कमरे में पड़ा था। रमाशंकर ने अपने बहनोई और मोहल्ले के लोगों को हत्याकांड की जानकारी दी। साथ ही नौबस्ता पुलिस को सूचना दी। परिजनों ने लूट के बाद हत्या की आशंका जताई है।

अस्त-व्यस्त थे महिला के कपड़े

महिला के कपड़े भी अस्त-व्यस्त मिले। नौबस्ता थाना प्रभारी अमित भड़ाना, एसीपी विकास पांडेय और फोरेंसिक टीम मौके पर जांच करने पहुंची। थाना प्रभारी ने बताया कि प्राथमिक जांच में लग रहा है कि किसी नजदीकी ने हत्या की है। महिला के शरीर पर टॉप्स, मंगलसूत्र और पायल समेत अन्य जेवरात होने से लूट की वारदात नहीं लग रही है।

बेटी स्कूल से घर लौटी, तो मां का शव देखकर हुई बेहोश

स्कूल से घर लौटी बेटी आकांक्षा मां का शव देखकर हो गई बेहोश।
स्कूल से घर लौटी बेटी आकांक्षा मां का शव देखकर हो गई बेहोश।

इसी दौरान बेटी स्कूल से घर लौटी, तो मां का शव देखकर बेहोश हो गई। मोहल्ले के लोगों ने किसी तरह संभाला। बेटी बार-बार यही कह रही थी कि सुबह तो मां बोल रही थीं। मुझे लंच लगाकर दिया था। कहा था कि बेटी लौटकर आओ फिर अच्छे से पढ़ाई करो। मैं तुम्हें नई साइकिल और कपड़े भी दिलाऊंगी।

मौके पर जांच करने पहुंची नौबस्ता थाने की पुलिस।
मौके पर जांच करने पहुंची नौबस्ता थाने की पुलिस।

घर का पूरा सामान बिखरा मिला

रमाशंकर ने बताया कि भले ही पुलिस दावा कर रही कि लूट-पाट नहीं की गई। लेकिन घर में पूरा सामान बिखरा हुआ था और आलमारी खुली थी। हत्याकांड के पीछे लूटपाट की घटना से भी इनकार नहीं किया जा सकता है।

हत्यारे ने दस्तावेज जलाए, किसी नजदीकी पर शक
हत्यारे ने कांड को अंजाम देने के बाद बाथरूम में लक्ष्मी के घर में रखी मकान की रजिस्ट्री, शैक्षणिक योग्यता के दस्तावेज समेत सभी कागजात जला दिए। इससे पुलिस को आशंका है कि किसी नजदीकी ने हत्याकांड को अंजाम दिया है। जल्द ही वह हत्याकांड का खुलासा करेगी।

खबरें और भी हैं...