पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • The Municipal Corporation Got The Work Done In The Ward, The MLA Got The Mayor Removed And Got The Stone Installed In His Name, The Foundation Stone Was Also Missing, Kanpur Nagar Nigam, Mayor Kanpur, Kidwai Nagar Vidhansabha, BJP, Congress, Kanpur

लोकार्पण पत्थर को लेकर महापौर-विधायक में विवाद:वार्ड में नगर निगम ने कराया कार्य, पार्षद का आरोप विधायक ने महापौर का नाम हटाकर अपने नाम का लगवाया पत्थर, महापौर ने जताई नाराजगी

कानपुर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पार्षद ने विधायक के शिलान्यास पत्थर पर आपत्ति जताते हुए महापौर से शिकायत की थी। इसके बाद अब नया लोकार्पण पत्थर तैयार किया गया है। - Dainik Bhaskar
पार्षद ने विधायक के शिलान्यास पत्थर पर आपत्ति जताते हुए महापौर से शिकायत की थी। इसके बाद अब नया लोकार्पण पत्थर तैयार किया गया है।

चुनावी साल में विधायक वार्डों में विकास कार्यों को श्रेय लेने की होड़ में लग गए हैं। इसको लेकर भाजपा से महापौर प्रमिला पांडेय और भाजपा से किदवई नगर विधानसभा से विधायक महेश त्रिवेदी आमने-सामने आ गए हैं। विकास कार्य शुरू होने से पहले शिलान्यास के लिए पहले महापौर के नाम से शिलापट तैयार किया गया है। बाद में पुराने शिलापट को गायब कर विधायक महेश त्रिवेदी के नाम से शिलापट तैयार कर विकास कार्य का श्रेय लूटने की कोशिश की।

महापौर के नाम का शिलान्यास पत्थर हटा दिया गया था।
महापौर के नाम का शिलान्यास पत्थर हटा दिया गया था।

पार्षद ने जताई आपत्ति
नगर निगम जोन-5 के वार्ड-51 बर्रा-2 में रामजानकी मंदिर के पीछे रोड साइड पटरी और नाली का निर्माण कराया गया है। 9 लाख रुपए से विकास कार्य पूरा हो गया है। काम पूरा होने के बाद इसका लोकार्पण होना था। इसमें पहले महापौर के नाम का शिलान्यास का पत्थर लगाया गया। क्षेत्र के कांग्रेस से पार्षद नीतू संजीव मिश्रा ने बताया कि चुनाव आने को लेकर नाम लेने की होड़ मची हुई है। कार्य विधायक निधि से नहीं बल्कि नगर निगम ने कराया है। महापौर के नाम का शिलापट गायब कर दिया गया और विधायक के नाम का लगा दिया गया।

महापौर ने जताई नाराजगी
मामले की जानकारी हुई महापौर को हुई तो उन्होंने इस पूरे मामले में नाराजगी जताई। अभियंत्रण विभाग को कड़े निर्देश दिए कि इस तरह की अनियमितता न हो। उन्होंने 15वें वित्त आयोग की मीटिंग में भी नगर आयुक्त शिवशरणप्पा जीएन से भी इस मामले को गंभीरता से लेने के लिए कहा था। वहीं विधायक ने इस पूरे मामले में चुप्पी साध ली है। अब नए बनाए गए लोकार्पण पत्थर में नगर आयुक्त का नाम भी बदल दिया गया है।

नए लोकार्पण पत्थर में तीनों का नाम लिखा गया।
नए लोकार्पण पत्थर में तीनों का नाम लिखा गया।

अब हुआ समझौता
विवाद बढ़ता देख महापौर और विधायक के बीच समझौता हुआ। बातचीत के बाद महापौर और विधायक दोनों के नाम का शिलापट तैयार कराया गया है। इसके बाद अब विकास कार्य को लोकार्पण कराने की तैयारी की जा रही है। नए शिलापट में विधायक, महापौर और पार्षद तीनों का नाम लिखवाकर लोकार्पण पत्थर तैयार कर लगाया गया है।

खबरें और भी हैं...